पक्षी में बधें थे व‍िस्‍फोटक
जानकारी के मुताब‍िक तालिबान द्वारा इस तरह की रणनीति का इस्तेमाल करने का मामला सामने आया है और अफगानिस्तान पुलिस ने कथित तौर पर इस तरह की एक चिडिया को मार गिराया है, जिसके शरीर पर विस्फोटक, जीपीएस तथा डेटोनेटर बंधे थेपक्षी के पंख से कई तार निकले हुए थे. उसके शरीर पर विशेष तौर पर डिजाइन एक जैकेट बंधा हुआ था, जिसपर एक मोबाइल फोन डेटोनेटर बंधा हुआ था. तुर्कमेनिस्तान की सीमा के समीप देश के उत्तरी हिस्से के फरयाब प्रांत में सतर्क अधिकारियों ने उस संदिग्ध पक्षी की पहचान कर ली. उस पक्षी का आकार सामान्य से बड़ा देखकर उनकी शंका को और बल मिला, क्योंकि इस तरह का पक्षी वहां पहले कभी नहीं देखा गया था. जब पक्षी को गोली मारी गई, तो उसमें विस्फोट हो गया तथा संदिग्ध धातु के टुकड़े चारों तरफ बिखर गए और उन टुकड़ों को इकट्ठा करने के दौरान उसमें एक छोटे कैमरे तथा जीपीएस के टुकड़े पाए गए.

घटना ने क‍िया शॉक्‍ड
जब क‍ि इससे पहले अफगानिस्तान के कई पुलिस अधिकारी कहते रहे हैं कि आतंकियों से निपटने के लिए उनके पास पर्याप्त इंतजाम नहीं हैं. हेल्मंद के पुलिस कप्तान अब्दुल्ला अनवरी के मुताबिक, उनके इलाके में तालिबान आतंकियों के हमले होते रहते हैं, लेकिन हथियार और उपकरणों की कमी के चलते वह उनका जवाब नहीं दे पाते हैं. केवल चैक प्वाइंट पर केवल हथगोले ही दे सकते हैं कभी कभी एक चैक प्वाइंट पर 200 आतंकी एक साथ हमला कर देते हैं. वहां तैनात जवानों के पास हारने के अलावा कोई रास्ता नहीं रहता, लेक‍िन पक्षी वाली घटना ने सबको पूरी दुन‍िया के अचरज मे डाल द‍िया. सबसे खास बात तो यह मामला ऐसे समय सामने आया है जब अमेरिका के नेतृत्व वाली नाटो सेना अफगानिस्तान छोड़ने वाली है.

Hindi News from World News Desk

International News inextlive from World News Desk