जिंदल को रिस्पांसबिलिटी

बिरसा मुंडा एयरपोर्ट के डायरेक्टर राघवेंद्र राजू ने बताया कि नई टर्मिनल बिल्डिंग के बगल में गार्डेन डेवलप करने की रिस्पांसबिलिटी जिंदल कंपनी को सौंपी गई है. यह काम वह अपने खर्च पर कर रही है. जब गार्डेन बनकर तैयार हो जाएगा तो यह देखने में बहुत खूबसूरत लगेगा, हालांकि यह इनिशियल स्टेज पर है.

लगे हैं घास और पौधे
नई टर्मिनल बिल्डिंग के बगल में इंट्रेंस गेट के सामने गार्डेन को डेवलप करने के लिए घास और पौधे लगाए जा चुके हैं. वहीं नई टर्मिनल बिल्डिंग के एग्जिट प्वाइंट पर भी जिंदल कंपनी घास लगवा चुकी है. यहां पर पौधे से जिंदल कंपनी का नाम भी लिखा जा चुका है.

पीपीपी मोड पर हो रहा है डेवलप
एयरपोर्ट के सोर्सेज के मुताबिक  एयरपोर्ट पर ब्यूटीफिकेशन की रिस्पांसबिलिटी टाटा स्टील और जिंदल ग्रुप को मिली है.ये अपने खर्चे पर काम कर रही है.  वहीं एयरपोर्ट के ऑपरेशनल एरिया के डेवलपमेंट की रिस्पांसबिलिटी अभिजीत ग्रुप की है. अभिजीत ग्रुप ने हिनू चौराहे का भी ब्यूटीफिकेशन किया है और इसका रखरखाव भी कर रहा है.

 मिल सकता है इंटरनेशनल एयरपोर्ट का दर्जा
नई टर्मिनल बिल्डिंग के गार्डेन की ग्रीनरी को देख खुशी जाहिर करते हुए पैसेंजर राधिका सिन्हा ने बताया कि जितनी खूबसूरत    एयरपोर्ट की नई टर्मिनल बिल्डिंग है, उतनी ही खूबसूरत इसके बाहर का एन्वॉयरमेंट भी होना चाहिए, क्योंकि जल्द ही इस एयरपोर्ट को इंटरनेशनल एयरपोर्ट का भी दर्जा मिलने की उम्मीद है. ऐसे में नया गार्डेन ऐसा होना चाहिए जो एयरपोर्ट को नई पहचान दे. हालांकि एयरपोर्ट की पुरानी टर्मिनल बिल्डिंग के पास पहले से एक खूबसूरत गार्डेन है और वह भी वेल मेंटेन है.