दैनिक जागरण आई नेक्स्ट एक्सक्लूसिव

- ट्रेनों के कोच में लगाए जा रहे हैं डिजिटल रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड

-डिस्प्ले लगाने के लिए श्रमशक्ति के कोच भेजे गए कोच निर्माण फैक्ट्री

- जीपीएस सिस्टम से कनेक्ट होगा कोच का रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड

kanpur@inext.co.in

kanpur. ट्रेनों में आरएसी और वेटिंग टिकट वाले पैसेंजर्स के लिए अच्छी खबर है. क्योंकि कानपुर से चलने वाली ट्रेनों के कोचों में जल्द ही रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड लग जाएगा. इसकी शुरुआत श्रमशक्ति एक्सप्रेस से की जाएगी. कानपुर से चलने वाली विभिन्न ट्रेनों के 7ख् रिजर्वेशन कोच में डिस्प्ले बोर्ड लगाने की कवायद शुरू हो चुकी है. पांच-पांच कोचों को फैक्ट्रियों में भेज कर उनमें डिस्प्ले बोर्ड लगाया जाएगा. प्रथम चरण में पांच आरक्षित कोचों को भेजा भी जा चुका है जोकि श्रमशक्ति ट्रेन में लगेंगे.

अगले माह से मिलेगी सुविधा

पीआरओ अमित मालवीय ने बताया कि श्रमशक्ति एक्सप्रेस के सभी कोचों में रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड एक महीने में लग जाएंगे. श्रमशक्ति एक्सप्रेस रात की ट्रेन होने के कारण पैसेंजर्स को ज्यादा परेशानी हाेती है.

इसलिए बड़ी डिस्प्ले बोडर् की जरुरत

- प्लेटफार्म पर रिजर्वेशन चार्ट लगाए जाने के कुछ देर बाद ही पेपर फट जाता है या फिर किसी के द्वारा फाड़ दिया जाता है.

- आरएसी और वेटिंग टिकट वालों की बर्थ कंफर्म होने के बाद भी कई बार वे सही कोच में नहीं बैठ पाते हैं.

- रात के वक्त रिजर्वेशन चार्ट में अपनी बर्थ देखने में पैसेंजर्स को काफी परेशानी होती है.

- पैसेंजर्स खासकर बुजुर्गो को अपनी बर्थ ढूंढने में काफी परेशानी होती है.

जम्मूतवी एक्स. में भी होगी सुविधा

योजना के दूसरे चरण में कानपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस के कोचों को रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड लगाने के लिए फैक्ट्री में भेजा जाएगा. इसके बाद यह सुविधा चौरी-चौरा, उधमपुर एक्सप्रेस में भी होगी.

'कानपुर से चलने वाली एक्सप्रेस ट्रेनों के आरक्षित कोचों में रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड लगाने का काम शुरू हो चुका है. अगले माह तक यात्रियों को कई और ट्रेनों में यह सुविधा मुहैया हो जाएगी.'

अमित मालवीय, पीआरओ, इलाहाबाद मंडल

----------------

- ट्रेनों के कोचों में इलेक्ट्रिक रिजर्वेशन चार्ट लग जाने से काफी राहत मिलेगी. वर्तमान में किसी-किसी ट्रेन में ही रिजर्वेशन चार्ट चस्पा मिलते है. इससे काफी परेशानी होती है.

आशीष मिश्रा

- इस सुविधा से यात्रियों को काफी राहत मिलेगी. कोचों के बाहर रिजर्वेशन चार्ट चस्पा न होने की वजह से रात में काफी परेशानी होती है. कोचों में रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड लग जाने से यह समस्या खत्म हो जाएगी.

हिमांशु तिवारी

- श्रमशक्ति एक्सप्रेस कानपुर से दिल्ली के लिए सबसे बेस्ट ऑप्शन है. कानपुर की इस ट्रेन से यह सुविधा शुरु करने का फैसला काबिले तारीफ है. अन्य ट्रेनों में भी यह सुविधाएं होनी चाहिए.

मयंक कपूर

- कोचों में रिजर्वेशन चार्ट डिस्प्ले बोर्ड के साथ रेलवे को उनके मेंटीनेंस पर भी गंभीर होना पड़ेगा. कोचों में बर्थ के लेकर टॉयलेट तक यात्रियों को काफी सुविधाओं का सामना करना पड़ता है.

अरजीत सिंह