-पेंडिंग रिजल्ट वाले छात्र 4 से 6 तक वेबसाइट पर डालें कोड

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

क्कन्ञ्जहृन्: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से आयोजित मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा का रिजल्ट रविवार को बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने जारी किया. कंपार्टमेंटल परीक्षा के लिए 2,17,575 स्टूडेंट्स ने फॉर्म भरा था. जिसमें 2, 16,455 स्टूडेंट्स एग्जाम में शामिल हुए. कुल 57,642 स्टूडेंट्स पास हुए. ज्ञात हो कि हर विषय में स्टूडेंट्स को पास होने के लिए बोर्ड ने 33 परसेंट अंक निर्धारित किया है. लेकिन कंपार्टमेंटल परीक्षा में 26.63 परसेंट स्टूडेंट्स ही सफल हुए. इस तरह एक बार फिर बिहार बोर्ड मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा में भी फेल हो गया.

पटना में 27.41 परसेंट छात्र पास

राजधानी पटना के 16 केन्द्रों पर आयोजित मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा में 70,80 छात्रा और 3976 छात्र परीक्षा दिए थे. जिसमें 3030 स्टूडेंट्स सफल हुए और 7933 फेल हुए. कुल 27.41 प्रतिशत रिजल्ट रहा. 15 स्टूडेंट्स का रिजल्ट पूर्ण रूप से तैयार नहीं है जबकि 118 स्टूडेंट्स अनुपस्थित रहे थे. बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि मैट्रिक कंपार्टमेंटल में 1,276 ऐसे छात्र हैं जो ओएमआर सीट में प्रश्नपत्र कोड अंकित नहीं किए वे बोर्ड की वेबसाइट पर 4 से 6 सितंबर के बीच कोड अंकित करें, फिर रिजल्ट जल्द जारी होगा.

11वीं के लिए 5 से करें अप्लाई

बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा में पास स्टूडेंट्स 11वीं में एडमिशन के लिए ओएफएसएस के माध्यम से बोर्ड के

पोर्टल पर पांच सितंबर से 8 सितंबर के बीच कॉलेज ऑप्शन डालकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. तीसरे मेरिट लिस्ट में स्टूडेंट्स को कॉलेज आवंटित किया जाएगा.

मैट्रिक कंपार्टमेंटल परीक्षा में वहीं स्टूडेंट्स सम्मलित हुए थे जो वार्षिक माध्यमिक परीक्षा में फेल हुए थे. इसलिए कंपार्टमेंटल परीक्षा का प्रतिशत कम है.

-आनंद किशोर, अध्यक्ष, बिहार विद्यालय परीक्षा समिति