-स्मार्ट सिटी के तहत 3 करोड़ रुपए से नगर निगम व सरकारी स्कूलों में बनाई जाएंगी स्मार्ट क्लासेस

-शहर के 6 स्कूल किए गए शामिल, बच्चों को डिजिटली पढ़ाई कराई जाएगी

-हर क्लास रूम में बनाई जाएगी डिजिटल टेक्स्ट बुक, ई-लाइब्रेरी, प्रोजेक्टर और सीसीटीवी कैमरा लगेंगे

kanpur@inext.co.in

KANPUR : शहर के सरकारी और नगर निगम स्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को भी अब स्मार्ट तरीके से पढ़ाया जाएगा. जी हां, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत सरकारी और नगर निगम स्कूलों को ई-लर्निग और स्मार्ट क्लासेस जैसी सुविधाओं से लैस किया जा रहा है. इसके लिए ई-पाठशाला प्रोजेक्ट तैयार किया गया है. इसमें तीन नगर निगम के और तीन सरकारी स्कूलों को शामिल किया गया है. इस प्रोजेक्ट को 3 करोड़ रुपए से पूरा किया जाएगा.

ऑनलाइन पढ़ाई भी होगी

स्मार्ट क्लास रूम में बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाया जा सकेगा. इसके लिए आईआईटी और देश की अन्य टेक्निकल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर की भी ऑनलाइन क्लासेस चलाई जा सकेंगी. इसका सबसे ज्यादा फायदा 11वीं और 12वीं के छात्रों को मिलेगा. स्मार्ट क्लासेस के जरिए उन्हें कॉम्पटीटिव एग्जाम की तैयारी भी कराई जाएगी.

-----------

क्या होती है डिजिटल क्लास

- प्रोजेक्टर से डिजिटल बुक्स के जरिए पढ़ाई

- टॉपिक्स को इंट्रेस्टिंग ऑडियो और वीडियो के साथ तैयार करना

- जिससे बच्चों को आसानी से सब्जेक्ट का टॉपिक समझ आ सके

- ऑनलाइन क्लासेस भी संचालित की जा सकती हैं.

----------

इन स्कूलों का चयन

1. प्राइमरी जी स्कूल, खलासी लाइन.

2. नगर निगम महिला इंटर कॉलेज, तिलक नगर.

3. नगर निगम बालिका इंटर कॉलेज, चुन्नीगंज.

4. नगर निगम महिला इंटर कॉलेज, सिविल लाइंस.

5. श्री कैलाश नाथ बालिका इंटर कॉलेज, सिविल लाइंस.

6. डीएवी इंटर कॉलेज, सिविल लाइंस.

-----------

हर क्लास रूम में होगी यह सुविधा

-डिजिटल टेक्स्ट बुक (ई-कन्टेंट)

-ई-लाइब्रेरी (वीडियो लेक्चर्स, डेस्कटॉप)

-प्रोजेक्टर, इंटरेक्टिव स्मार्ट बोर्ड, स्पीकर्स, वायरलेस माइक.

-सीसीटीवी कैमरा

-इंटरनेट कनेक्टिविटी

-----------

ई-लाइब्रेरी में होंगी यह फैसेलिटी

-300 डिजिटाइज्ड टेक्स्ट बुक

-500 ई-बुक

-100 वीडियो लेक्चर्स

-300 ऑडियो लेक्चर्स

-कॉम्पिटिटिव एग्जाम प्रिपरेशन मॉड्यूल

----------

नगर निगम के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को यह सुविधा मिल सके, इसके लिए स्मार्ट सिटी योजना में स्मार्ट क्लास की प्लानिंग की है. इसकी डीपीआर तैयार कर ली गई है, जल्द ही टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद काम शुरू होगा.

-संतोष कुमार शर्मा, नगर आयुक्त, नगर निगम.