- बस अड्डे में लगे 14 सीसीटीवी कैमरों को एआरएम के मोबाइल से जोड़ा गया

- एआरएम घर बैठे मोबाइल पर झकरकटी बस अड्डे की एक्टिविटी पर रखेंगे नजर

- सुरक्षा व बसों के संचालन को दुरुस्त करने के लिए की गई व्यवस्था, एक सप्ताह पहले शुरू हुई सेवा

kanpur। शहर के बस अड्डों की अब ऑनलाइन निगरानी की जाएगी। जिसकी शुरुआत परिवहन निगम के अधिकारियों ने झकरकटी अंतर्राज्यीय बस अड्डे से शुरू कर दी है। जहां परिसर में लगे क्ब् एचडी सीसीटीवी कैमरों को सॉफ्टवेयर की मदद से बस अड्डे के एआरएम के स्मार्ट फोन से कनेक्ट कर दिया गया है। जिसकी मदद से एआरएम बस अड्डे में होने वाली हर एक्टिविटी को कहीं पर भी बैठकर देख सकते हैं।

घर बैठे एक्टििवटी पर नजर

एआरएम राजीव कटियार ने बताया कि बस अड्डे में सुरक्षा व्यवस्था पर निगरानी रखने के लिए कुल क्ब् एचडी कैमरे लगे हुए हैं। जिनको इंटरनेट के माध्यम से एआरएम के स्मार्ट फोन से कनेक्ट कर दिया गया है। अब चाहे तो एआरएम अपने मोबाइल से परिसर में लगे किसी भी कैमरे से उस क्षेत्र की लोकेशन घर बैठे भी ले सकते हैं।

सभी बस अड्डों में होगी व्यवस्था

परिवहन निगम अधिकारियों के मुताबिक यह व्यवस्था शहर के सभी बस अड्डों में इसी माह से शुरू की जाएगी। ट्रायल के रूप में यह व्यवस्था झकरकटी बस अड्डे में शुरू की जा चुकी है। जिसका ट्रायल लगभग सफल रहा है। नेट कनेक्टिविटी में थोड़ी प्राब्लम आ रही है। जिसको कंपनी से बात कर दूर कर दिया जाएगा। शहर के सभी बस अड्डों में कैमरे लगाए जा चुके हैं। जिनको सिर्फ साफ्टवेयर से कनेक्ट करने का काम बाकी है।

जाम हटाने व बसों के संचालन में मदद

एआरएम के मुताबिक कर्मचारियों व बस ड्राइवर की लापरवाही की वजह से बस अड्डे के मेन इंट्री गेट पर अक्सर जाम लग जाता है। जिससे कानपुराइट्स के साथ यात्रियों को भी परेशानी होती है। कैमरों के माध्यम से इंट्री प्वाइंट में लगने वाले जाम को हटाने के लिए इंस्ट्रक्शन देना और जाम हटवाना आसान हो जाएगा।

आंकड़े

- बस अड्डे से क्ख् सौ बसों का संचालन

- ख्ब् घंटे में लगभग भ्0 हजार यात्रियों का आवागमन

- कानपुर रीजन में 7 बस अड्डे

- क्ब् कैमरे लगे हैं झकरकटी बस अड्डे में

- भ् विभागीय सिपाही सुरक्षा व्यवस्था में लगे हैं

- ख् सिपाही बाबूपुरवा थाने की पिकेट में तैनात हैं

कोट

यह व्यवस्था बस अड्डे की सुरक्षा व्यवस्था को टाइट करने व बसों के समय से संचालन के लिए की गई है। जल्द ही यह व्यवस्था सभी बस अड्डों में होगी।

राजीव कटियार, एआरएम, झकरकटी बस अड्डा