अमेरिकी डीएनए में है नस्‍लवाद
अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने स्‍टेंडअप कॉमेडियन मार्क मैनर को दिए इंटरव्‍यू में कहा कि अमेरिका में आज भी नीग्रो शब्‍द को प्रयोग किया जाता है। उन्‍होंने कहा कि उन्‍होंने अपनी अब तक की जिंदगी में नस्‍लवाद के प्रति लोगों का नजरिया बदलते देखा है। लेकिन यह नहीं कहा जा सकता है कि यह अमेरिकी समाज से खत्‍म हो चुका है। लोग आज भी नस्‍ल के आधार पर एक दूसरे के साथ भेदभाव करते हैं। यह अमेरिकी डीएनए में है जो जेनरेशन बदलने के साथ आगे बढ़ता जा रहा है।

प्रगति ठीक है लेकिन नस्‍लवाद

ओबामा ने कहा कि इस बात में दो राय नहीं हैं कि अमेरिकी समाज ने जबरदस्‍त प्रगति की है। लेकिन हमें यह समझने की जरूरत है कि नस्‍लवाद आज भी हमारे समाज से हटा नहीं है। साउथ कैरोलिना प्रांत के चार्ल्‍सटन में अफ्रीकी चर्च में घुसकर 9 लोगों को मौत के घाट उतारने वाले शख्‍स को ऐसा घृणि‍त करने के लिए नस्‍लवाद ने ही प्रेरित किया। इससे पता चलता है कि यह आज भी हमारे समाज पर एक दाग की तरह है जिसे मिलजुल कर दूर किया जाना चाहिए।

ओबामा पर हुई टिप्‍पणी

जहां एक ओर ओबामा नस्‍लवाद को आड़े हाथों लेते दि‍ख रहे हैं वहीं इजरायल के होम मिनिस्‍टर सिल्‍वन शेलम की पत्नी जूडी शेलम ने अपने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए ओबामा पर ही नस्‍लवादी टिप्‍पणी कर दी। उन्‍होंने कहा कि 'क्‍या आप जानते हैं कि ओबामा कॉफी कैसी होती है? काली और कमजोर।' इसके बाद हिब्रू और अंग्रेजी में कई लोगों ने जूडी की कड़ी भर्त्‍सना की। इसके बाद जूडी ने माफी मांगते हूए अपना ट्वीट डिलीट कर दिया।

Hindi News from World News Desk

International News inextlive from World News Desk