आखिरी फिल्म 'जाने तू, या जाने न'
आमिर खान के कजन भाई बकौल मंसूर की आखिरी बॉलीवुड फिल्म जाने तू, या जाने न थी। फिल्म जाने तू, या जाने ने में 2008 में बतौर प्रोड्यूसर पहली और आखिरी बार काम किया था। मंसूर का भाई आमिर खान को रातों रात स्टार बनाने में बडा़ हाथ था। दरअसल मंसूर खान ने साल 1988 में आई फिल्म कयामत से कयामत तक में बतौर डायरेक्टर काम किया था। मंसूर के पापा चाहते थे कि वो फिल्म लाइन में करियर बनाएं तो उन्होंने वो किया पर मंसूर खुद कुछ और ही करना चाहते थे।
जिस भाई की फि‍ल्‍म से आमिर खान ने कामयाबी की सीढ़ी चढ़ी,वही अब इसलिए बिता रहा गुमनामी की जिंदगी
इस वजह से बॉलीवुड से हुए दूर
मंसूर बॉलीवुड से जुडे़ रह कर पिता की चाह पूरी कर रहे थे। खुद मंसूर जमीन से जुडे़ रहना चाहते थे और इन सब से हट कर कुछ और ही करना चाहते थे। मंसूर के मुताबिक बॉलीवुड की जिंदगी तभी तक के लिए वो जीना चाहते थे जब तक उसे देखा नहीं था। मंसूर लगभग 15 साल से तमिलनाडु के नीलगिरी में पहाडो़ पर अपने परिवार के साथ रह रहे हैं। उन्हें ये जिंदगी बॉलीवुड की चकाचौंध से ज्यादा पसंद है।
बर्थ डे स्पेशल : अपने 53वें जन्‍मदिन पर आमिर खान का इंस्‍टाग्राम पर डेब्‍यू, यह रहीं उनकी जिंदगी से जुड़ी 10 बातें जो आप नहीं जानते
जिस भाई की फि‍ल्‍म से आमिर खान ने कामयाबी की सीढ़ी चढ़ी,वही अब इसलिए बिता रहा गुमनामी की जिंदगी
क्या कर रहे हैं इस वक्त
एक इंटरव्यू के दौरान मंसूर ने बताया कि उनका बॉलीवुड छोड़ देना अचानक लिया गया फैसला था। अब उनका जीज का बिजनेस है। मंसूर ने बताया मुंबई के पास पनवेल में हमारी कुछ जमीन है जिससे मै और मेरी बहन को बहुत लगाव है। मैं और मेरी बहन वहां अक्सर जाया करते थे। वहां हम दोनों अपने हाथों से भिंडी के पौधे लगाते थे। मैं अब्रॉड भी गया पर मन को अंदर से खुशी नहीं मिल रही थी। इसलिए हम यहां अक्सर आया करते थे।
आमिर खान को 10 साल की उम्र में किससे हुआ था साइलेंट लव, फेसबुक लाइव पर किया खुलासा
जिस भाई की फि‍ल्‍म से आमिर खान ने कामयाबी की सीढ़ी चढ़ी,वही अब इसलिए बिता रहा गुमनामी की जिंदगी

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk