पहली फिल्म 'फूल और कांटे' नहीं थी
लोगों को पता है कि अजय देवगन की पहली फिल्म फूल और कांटे है जो साल 1991 रिलीज हुई थी। इससे पहले भी अजय देवगन फिल्मों में काम कर चुके हैं। साल 1985 में आई फिल्म प्यारी बहना में अजय देवगन ने अभिनय किया था। फिल्म में अजय देवगन बाल कलाकार के रूप में थे। इस फिल्म में अजय ने मिथुन चक्रवर्ती के बचपन का किरदार निभाया। बता दें कि बतौर डायरेक्टर अजय देवगन की पहली फिल्म 'यू मी और हम' थी जिसमें वो एक्टर थे और काजोल उनके अपोजिट थीं। फिलहाल अगर अजय के अभिनय की बात की जाए तो अजय ने हर तरह की फिल्म में हाथ आजमाया और सफल भी हुए। अजय ने एक्शन कॉमेडी और सीरियस रोल अपने फिल्मी करियर में बखूबी निभाए। फिल्म सिंघम में अजय एक्शन के स्टार बन गए तो फिल्म गोलमाल की सीरीज ने उन्हें एक बेहतर कॉमेडिय बना दिया।
बर्थ डे स्पेशल : ये चीजें करने में सिंघम अजय देवगन को लगता है डर,छूट जाते हैं पसीने
अजय की ये इच्छा कभी नहीं हो सकती पूरी
अजय देवगन का हमेशा से एक सपना रहा था कि वो कभी इंडस्ट्री के बेहतरीन कलाकार दिलीप कुमार के साथ बडे़ पर्दे पर एक फिल्म में साथ काम कर सकें। इसके लिए अजय ने पूरी तैयारी भी कर ली थी फर वो कुछ वजहों से अपना ये सपना पूरा नहीं कर पाए। दिलीप कुमार के साथ काम करने के अपने सपने को पूरा करने के लिए अजय ने असर द इम्पैक्ट नाम की एक फिल्म बनाने की प्लानिंग तक कर डाली थी पर कुछ वजहों से अजय ये फिल्म नहीं कर पाए। इस वजह से अजय की ये तम्मन्ना अधूरी ही रह गई।
बर्थ डे स्पेशल : ये चीजें करने में सिंघम अजय देवगन को लगता है डर,छूट जाते हैं पसीने
इन चीजों से लगता है डर
जैसे हर इंसान को किसी न किसी चीज का फोबिया होता है या फिर डर होता है। वैसे ही अजय देवगन को भी कुछ चीजों से डर लगता है। अजय का ये डर काफी अजीबो गरीब है जिसे सुन कर आप हंस पडे़गें। अजय देवगन को इंटरव्यू देने से डर लगता है। इतना ही नहीं अजय को इंटरव्यू देने के साथ-साथ डांस करने और पार्टियां करने से भी डर लगता है। कई और चीजों से भी रिलय लाइफ में डरते हैं पर्दे के सिंघम अजय देवगन। अजय को सबसे ज्यादा अगर कुछ पसंद है तो वो है बच्चों के साथ खेलना और बाइक राइडिंग। अपने खाली समय में अजय सबसे ज्यादा यही काम करते हैं।
बर्थ डे स्पेशल : ये चीजें करने में सिंघम अजय देवगन को लगता है डर,छूट जाते हैं पसीने
ये फिल्में बनी करियर का माइलस्टोन
हर सफल एक्टर के फिल्मी करियर में कुछ फिल्में ऐसी होती ही हैं जो उसके करियर का माइलस्टोन होती हैं। फिल्म फूल और कांटे से साल 1991 में अजय ने अपने अभिनय की इतनी गहरी छाप छोड़ दी कि इसके बाद तो उनके पास फिल्मों के ऑफर की कभी कमी ही नहीं हुई। फिल्म फूल और कांटे के बाद अजय ने फिल्म जिगर, दिलवाले, सुहाग, नाजायज, सिंघम, गोलमाल सीरीज, रेड जैसी कई फिल्मों में काम किया। बता दें कि फिल्म फूल और कांटे के लिए अजय देवगन को  बेस्ट डेब्यू एक्टर कैटेगरी में फिल्मफेयर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था।
बर्थ डे स्पेशल : ये चीजें करने में सिंघम अजय देवगन को लगता है डर,छूट जाते हैं पसीने
ये हैं अजय के फिल्मी करियर के अचीवमेंट्स
अजय देवगन के करियर की पहली बॉलीवुड फिल्म फूल और कांटे के लिए तो उन्हें बेस्ट डेब्यू एक्टर के तौर पर फिल्मफेयर अवॉर्ड से सम्मानित किया ही गया। बाद में अजय एक से एक फिल्मों में अपने अभिनय से लोगों का दील जीता। कॉमेडी, एक्शन और सीरियस हर तरह का रोल अदा किया। अजय को उनकी फिल्म जख्म और द लीजेंड ऑफ भगत सिंह के लिए बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड मिल चुक है। बाद में अजय को अपनी फिल्म दीवानगी में नेगेटिव किरदार अदा करने के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा गया। बाद में अजय को साल 2016 में पद्मश्री से भी सम्मानित किया गया।

जोधपुर में फातिमा संग ‘रेड’ देखने पहुंचे आमिर खान, सामने आईं तस्‍वीरें

अजय देवगन ने 3 दिन में 'रेड' डाल कर किया बडा़ कलेक्शन, बन गई साल की दूसरी बडी़ हिट फिल्म

शाहिद ही नहीं ये 5 बॉलीवुड एक्‍टर्स भी सीख चुके हैं तलवारबाजी

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk