सऊदी अरब से हैं महिला तस्कर के संबंध

व्हाट्सऐप पर हथियारों की फोटो भेजकर करते थे डील

Meerut. पुलिस ने हथियारों की तस्करी करने वाले एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जिसके सदस्य व्हाट्सऐप पर हथियारों की फोटो भेजकर डील करते थे. इतना ही नहीं यह गिरोह हथियारों की तस्करी में महिलाओं का भी इस्तेमाल कर रहा था. पकड़े गए सनी उर्फ सोहेल से पुलिस ने तीन पिस्टल, कारतूस व एक मोबाइल बरामद किया है.

एसपी क्राइम ने किया खुलासा

एसपी क्राइम शिवराम यादव ने प्रेसवार्ता में बताया कि उन्हें सूचना मिली कि लिसाड़ी गेट में एक गिरोह में शामिल दो महिलाएं समेत सात लोग मुजफ्फरनगर, शामली, बागपत, बिजनौर, सहारनपुर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, नोएडा, दिल्ली आदि जिलों में पिस्टल सप्लाई कर रहे हैं. पुलिस ने लिसाड़ी गेट समर गार्डन क्षेत्र से गिरोह के एक सदस्य सनी उर्फ सोहेल को दबोच लिया. सख्ती से पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह अपने अन्य छह साथियों के साथ मिलकर बिहार के मुंगेर से पिस्टल खरीदकर लाते थे. इसके बाद पश्चिमी यूपी के कई जिलों में उन्हें सप्लाई करता था. समर गार्डन की ही रहने वाली दो महिलाएं भी इनके साथ पिस्टल सप्लाई के काम को अंजाम देती थी.

व्हाट्सएेप पर तस्वीर

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए सनी के मोबाइल पर चल रहे व्हाट्सऐप पर हथियारों की कई फोटो मिली है. उसने बताया कि वह हथियारों की डील करने से पहले उनकी फोटो खींचकर व्हाट्सऐप के जरिए लोगों को भेजता था. पुलिस ने बताया कि महिला तस्करों को एक जिले से दूसरे जिले में जाकर हथियारों को बेचने की एवज नें एक पिस्टल पर 5000 रूपये मिलते थे.

सऊदी अरब में मिहला तस्कर

पुलिस ने महिला का पता किया तो वह फिलहाल सऊदी अरब में है. अब पुलिस इस महिला का सऊदी अरब से आने का इंतजार कर रही है. दूसरी महिला भी अपने घर पर ताला लगाकर फरार है. एसपी क्राइम का कहना है कि महिला के भारत लौटते ही उसका पासपोर्ट कैंसिल कराया जाएगा और गिरफ्तारी की जाएगी.