कानपुर। भारतीय क्रिकेट टीम इस समय इंग्लैंड दौरे पर है। वनडे सीरीज हारने के बाद विराट एंड कंपनी को अगली चुनौती टेस्ट सीरीज में मिलने वाली है। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज 1 अगस्त से होगा। इन दोनों देशों के बीच टेस्ट में बेस्ट की जंग हमेशा से रही है। ऐसा ही एक ऐतिहासिक टेस्ट मैच 7 साल पहले खेला गया था, जब भारतीय टीम की बल्लेबाजी पूरी तरह से ढह गई थी। टीम के 10 खिलाड़ी तो इंग्लैंड के एक बल्लेबाज के बराबर रन भी नहीं बना सके थे और भारत यह मैच 196 रनों से हार गया था।

जानें क्या हुआ था उस मैच में
साल 2011 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने इंग्लैंड गई थी। ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, पहला टेस्ट मैच लंदन में खेला गया। यह मैच काफी ऐतिहासिक था क्योंकि यह टेस्ट क्रिकेट इतिहास का 2000वां टेस्ट मैच था। भारतीय कप्तान ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का निर्णय लिया। शुरुआत में यह डिसीजन फायदेमंद लगा क्योंकि भारतीय गेंदबाजों ने 62 रन के स्कोर पर 2 विकेट चटका दिए थे। मगर इसके बाद क्रीज पर बल्लेबाजी करने आए जोनाथन ट्रॉट और केविन पीटरसन, दोनों ने शतकीय साझेदारी निभाई। खैर ट्रॉट तो 70 रन बनाकर चलते बने मगर पीटरसन ने ऐसे पैर जमाए कि दोहरा शतक जड़ दिया। केपी 202 रन बनाकर नाबाद लौटे और इंग्लैंड ने पहली पारी 474 रन पर घोषित कर दी।

इन 10 भारतीय खिलाड़ियों का स्कोर सबसे कम था
इतने बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की बल्लेबाजी बिल्कुल भी न चली। राहुल द्रविड़ (103) को छोड़ दिया जाए तो कोई भी बल्लेबाज अर्धशतक भी नहीं जमा सका। भारत की पहली पारी 286 रन पर सिमट गई, इसमें द्रविड़ की पारी को निकाल दें तो बाकी 10 खिलाड़ियों ने मिलकर सिर्फ 183 रन बनाए। इससे ज्यादा तो पीटरसन ने अकेले बना दिए थे। खैर इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 6 विकेट पर 269 रन बनाए। फर्स्ट इनिंग्स में डबल सेंचुरी जड़ने वाले केपी इस पारी में 1 रन बनाकर चलते बने।

भारत को 196 रन से गंवाना पड़ा ये मैच
भारत को यह मैच जीतने के लिए 458 रन बनाने थे। मगर पहली पारी की तरह दूसरी इनिंग्स में भी भारतीय बल्लेबाजी डगमगा गई। राहुल द्रविड़ (36) तो सचिन तेंदुलकर (12) रन बनाकर पवेलियन लौटे। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा 78 रन सुरेश रैना ने बनाए जिन्हें टेस्ट बल्लेबाज नहीं माना जाता है। खैर पूरी इंडियन टीम 261 रन पर ढेर हो गई और यह ऐतिहासिक मैच मेजबान इंग्लैंड ने 196 रन से जीत लिया।

इस इंग्लिश गेंदबाज के सामने बार-बार घुटने टेक देते हैं कोहली, अबकी बार कैसे करेंगे सामना

एक पैर पर खड़े होकर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट खेलने जा रहे ये दो भारतीय खिलाड़ी

Cricket News inextlive from Cricket News Desk