- इस बीमारी से मरने वालों की संख्या हुई तीन, इंतजाम के सारे दावे फेल

GORAKHPUR: जिले में डेंगू के सामने स्वास्थ्य महकमा अपने घुटने टेक देने जैसी स्थिति में है. सारे इंतजाम के दावे फुस्स होते जा रहे हैं. मंगलवार को बीआरडी में एक और पेशेंट ने दम तोड़ दिया. इस तरह अब तक डेंगू के तीन पेशेंट की मौत हो चुकी है. वहीं जिला अस्पताल में एक और पेशेंट की जांच में डेंगू की पुष्टि हुई है.

छह साल का मासूम नहीं रहा

बीआरडी के बालरोग विभाग में बीते 17 सितंबर को महराजगंज के श्यामदेउरवा निवासी कमलेश के छह वर्ष के पुत्र शिवा को तेज बुखार होने पर एडमिट कराया गया था. उसके खून का नमूना सेंट्रल पैथोलॉजी भेजा गया. कार्ड टेस्ट से हुई जांच में डेंगू पॉजिटिव मिला. जांच रिपोर्ट के बाद डॉक्टरों ने उसे आईसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया. जहां अगले ही दिन मासूम ने दम तोड़ दिया. इससे पूर्व बड़हलगंज की संजू और देवरिया के भटनी निवासी सुमित शाही की मौत डेंगू से हो चुकी है.

बॉक्स

एक और पेशेंट आया सामने

खजनी निवासी विनय चौरसिया एक हफ्ते से जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती हैं. उन्हें तेज बुखार की शिकायत थी. भर्ती के समय उनका प्लेटलेट्स काउंट एक लाख 28 हजार था जो गिरकर 28 हजार ही रह गया. सोमवार को उनके खून का सैंपल जांच के लिए भेजा गया तो रिपोर्ट पॉजिटिव मिली. जिसके बाद उन्हें डेंगू वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है.