lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : देवरिया कांड के विरोध में सपा ने देर शाम राजधानी स्थित केडी सिंह बाबू स्टेडियम से कैंडल मार्च निकाल कर अपना विरोध दर्ज कराया। इसमें सपा के चारों फ्रंटल संगठन और महिला सभा के पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल थे। सपा के वरिष्ठ नेता और विधानसभा में नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी के नेतृत्व में सपा जोरदार प्रदर्शन करने की तैयारी में है।

एेसी जघन्य घटनाओं से यह साबित होता है कि बीजेपी शासित राज्यों में थोड़ा नहीं बल्कि पूरा जंगलराज है तथा कानून-व्यवस्था की तरह ही महिला सुरक्षा व सम्मान भी बीजेपी के लिये प्राथमिकता नहीं बल्कि इनके लिये चिंता का आखिरी विषय है। सरकारी संरक्षण के बिना यह सब अन्याय-अत्याचार व घोर पाप संम्भव ही नहीं है।
- मायावती, बसपा सुप्रीमो
 
देवरिया में हुई घटना बहुत शर्मनाक और घिनौनी है। एक संस्था जिसका लाइसेंस रद्द हो चुका है, बच्चियों को पालने का कार्य आखिर किसके संरक्षण पर कर रहा था। दोषियों को कठोर सजा मिलनी चाहिए। वहीं विभागीय मंत्री एवं मुख्यमंत्री को तत्काल इस्तीफा देना चाहिए।
- राजबब्बर, अध्यक्ष, प्रदेश कांग्रेस  
 
देवरिया की घटना बहुत ही शर्मनाक और निंदनीय है। इसके आपराधिक दोष से भाजपा सरकार बच नहीं सकती। छोटी-छोटी कार्यवाही और जांच के नाटक से इतने बड़े अपराध पर पर्दा नहीं डाला जा सकता है। इस पर राजभवन की चुप्पी हैरत में डालती है। राज्यपाल लगातार अपराध स्थिति में सुधार की बात करते रहे हैं लेकिन राज्य सरकार उनको हल्के में ले रही है। देवरिया की घटना बिहार के मुजफ्फरपुर से भयानक है।
राजेंद्र चौधरी, मुख्य प्रवक्ता, सपा

संरक्षण गृहों में घर जैसा माहौल देने का होता है दावा, ये है यूपी में बाल गृह, महिला संरक्षण गृहों का रिकाॅर्ड

बालिका गृह मामला : यूपी सरकार पहले ही हो गयी थी अलर्ट, रात में भी दिए थे निरीक्षण के आदेश

National News inextlive from India News Desk