-दो सदस्यीय कमेटी 10 दिन में देगी रिपोर्ट

-डीएम सख्त, रैगिंग साबित हुई तो होगी सख्त कार्रवाई

-स्कूल मैनेजमेंट आरोपी छात्रों की कराएगा पहचान

-स्कूल मैनेजमेंट ने की पीडि़त पैरेंट्स से मुलाकात

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW :

ला-मार्टिनियर ब्वॉयज कॉलेज में आठवीं के छात्र से मारपीट और रैगिंग मामले में डीएम कौशल राज शर्मा ने जांच के आदेश दे दिए हैं. शुक्रवार को मीडिया की खबरों व फैक्स द्वारा आई शिकायत का संज्ञान लेते हुए डीएम ने दो सदस्यीय समिति गठित कर 10 दिन में रिपोर्ट तलब करने को कहा है. रैगिंग की पुष्टि हुई तो जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

डीएम बोले, सीरियस मामला

डीएम कौशल राज शर्मा ने बताया कि स्टूडेंट के साथ रैगिंग की शिकायत मिली है. यह गंभीर मामला है जिसकी जांच के लिए एसीएम 1 और डीआईओएस की दो सदस्यीय टीम जांच कर 10 दिन में रिपोर्ट सौंपेगी. यह टीम वार्डेन, टीचर्स, सीनियर स्टूडेंट्स और विक्टिम व पैरेंट्स से पूछताछ कर रिपोर्ट सौंपेगी. यदि रैगिंग की पुष्टि होती है तो बड़ी कार्रवाई होगी. डीएम ने कहा कि छोटे बच्चों के स्कूल में ऐसी घटना होना सीरियस मामला है और आरोपों की सत्यता के लिए जांच की जाएगी.

आरोपी छात्रों को कराया जाएगा सामने

पैरेंट्स दिन भर मामले की शिकायत के लिए दौड़ते रहे. बेटे को इंसाफ दिलाने के लिए यश के पैरेंट्स डीएम और एसएसपी ऑफिस गए. अधिकारियों के न मिलने पर एसपी रूरल से मिलकर कार्रवाई की मांग की. एसपी रूरल ने एसपी ग्रामीण ने कार्रवाई का आश्वासन दिया. पैरेंट्स ने स्कूल मैनेजमेंट से भी मिलकर मामले की शिकायत की. एसओ गौतमपल्ली अम्बर सिंह ने बताया कि शनिवार को स्कूल मैनेजमेंट ने यश के पैरेंट्स को स्कूल बुलाकर आरोपी स्टूडेंट्स की पहचान कराई जाएगी.

क्या था मामला

गौरतलब है कि ला-मार्टिनियर ब्वॉयज कॉलेज प्रशासन पर एक पैरेंट्स ने गुरुवार को आरोप लगाए थे कि कक्षा आठ में पढ़ने वाले उनके बेटे यश के साथ सीनियर छात्रों ने शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताडि़त किया, मारपीट की और रातभर उसे मुर्गा भी बनाया. यही नहीं, सीनियर्स ने उसकी पैकेट मनी तक छीन ली. छात्र ने जब अपने पैरेंट्स से शिकायत की तो वह प्रिंसिपल के पास पहुंचे, लेकिन कॉलेज के प्रिंसिपल ने आरोपी छात्रों पर कार्रवाई की जगह पीडि़त छात्र को ही टीसी थमा दी थी.

एक और छात्र ने की शिकायत

इस बीच ला-मार्टिनियर के अन्य स्टूडेंट्स ने युवराज के पैरेंट्स ने भी सीनियर छात्रों द्वारा पिटाई और रैगिंग की शिकायत गौतम पल्ली थाने में की है. पिकनिक स्पॉट रोड के पास रहने वाले वकील के बेटे युवराज को भी यश की तरह मारा पीटा गया था. अपनी तहरीर में उन्होंने प्रदीप नाम के स्टूडेंट पर युवराज की पिटाई का आरोप लगाया है.

बॉक्स बॉक्स

ला-मार्ट्स के आगे शिक्षा विभाग मौन

ला-मार्टिनियर ब्वायज कॉलेज में 8वीं के छात्र के साथ सीनियर्स द्वारा शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न खबर शुक्रवार को सभी जगह चर्चा का विषय रही, लेकिन शिक्षा विभाग के अफसरों ने 'ला-मार्टिनियर' का नाम आते ही मामले की जांच कराना भी उचित नहीं समझा. डीआईओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह का कहना है कि उनके पास कोई शिकायत नहीं आई, इसलिए जांच नहीं कराई गई. विभागीय जानकारों के मुताबिक स्कूल की कमेटी में कई बड़े ओहदे पर बैठे लोग शामिल हैं, जिसकी वजह से अधिकारी किसी भी तरह की कार्रवाई करने से बच रहे हैं.

स्कूल में रैगिंग संवेदनशील मामला है. जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी गठित की गई है. रिपोर्ट मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

-कौशल राज शर्मा, डीएम

यश के पैरेंट्स ने शिकायत की थी जिसके बाद एसओ गौतमपल्ली को कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं.

डॉ. सतीश कुमार, एसपी रूरल