JAMSHEDPUR: जमशेदपुर में टेंपो चालकों की बर्बरता स्कूली छात्रों के लिए काल बनती जा रही है. प्रशासन द्वारा ओवर लोडिंग पर रोक के बाद भी बेखौफ टेंपो चालक 11 बच्चों की परमीशन वाले टेंपो में 21 बच्चे बैठाकर ले जा रहे हैं. इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है. शहर में टेंपो चालकों की लापरवाही से गोलमुरी निवासी छात्र अभिषेक की मौत हो गई थी. वहीं मंगलवार को बर्मामाइंस में स्कूली टेंपो से एक बच्चा गिरकर चोटिल होने से गुस्साए लोगों ने नशे में धुत टेंपो चालक की पिटाई कर दी थी.

चार महीने में सुधार नहीं

शहर में टेंपो चालकों के खिलाफ मई में सिटी एसपी प्रभात कुमार ने अभियान चलाया था. अभियान के दूसरे दिन ही चेकिंग के डर से टेंपो की चाल पर लगाम लग गया था. यूनियन ने सिटी एसपी को ज्ञापन देकर तीन माह का समय मांगा था लेकिन प्रशासन ने एक माह के अंदर ही लाइसेंस, गाड़ी के कागजात, फिटनेस और सेफ्टी राड और जाली लगाने के निर्देश लिए हैं. इसके बाद भी चालकों के रवैये में बदलाव नहीं हुआ, जिसका खामियाजा गोलमुरी के छात्र अभिषेक को चुकाना पड़ा. लेकिन चार माह बाद भी टेंपो चालकों के रवैये में कोई सुधार नहीं हो सका हैं.

प्रशासन के पास विकल्प नहीं

शहर में स्कूलों के पास बसें न होने से प्रशासन को भी टेंपो चालकों के सामने झुकना पड़ रहा है. जिसका फायदा टेंपो चालक उठा रहे है. हाल में ही चेकिंग के विरोध में टेंपो चालकों ने दो दिनों तक हड़ताल कर प्रशासन को बैकफुट पर आने को मजबूर कर दिया था. टेंपो के न चलने से शहर का यातायात ध्वस्त हो गया था. इसको देखते ही प्रशासन भी टेंपो चालकों की मनमानी को सह रहा है. वहीं टेंपो चालकों की सहूलियत के लिए उपायुक्त के आदेश पर कैंप लगाकर कागजात तैयार किए जा रहे हैं.

अभिभावक निभाएं जिम्मेदारी

शहर में टेंपो चालकों की लापरवाही को देखते हुए अभिभावकों को बच्चों की सुरक्षा का जिम्मा लेना होगा. शहर में टेंपो और वैन से स्कूल जाने वाले बच्चों के अभिभावक यह सुनिश्चित करें कि उनके बच्चे सुरक्षित यात्रा कर रहे है. लापरवाह टेंपो और वैन चालकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराए.

शहर में ओवर लोडिंग टेंपो और वैन के खिलाफ चल रहा अभियान बंद नहीं किया जाएगा. टेंपो चालकों की मनमानी के खिलाफ अभियान सतत चलाया जाएगा.

-शिवेंद्र कुमार, डीएसपी ट्रैफिक, जमशेदपुर

स्कूली ऑटो ड्राइवर को जेल

बर्मामाइंस पुलिस ने जेम्को आजादबस्ती निवासी स्कूली ऑटो चालक ¨रकू सिंह को गिरफ्तार कर बुधवार को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया. पुलिस ऑटो को जब्त कर थाने ले गई है. आरोपित ऑटो चालक ¨रकू सिंह के खिलाफ बर्मामाइंस थाने के सहायक अवर निरीक्षक रविकांत सिंह ने मामला दर्ज कराया गया है. चार सितंबर को चालक की लापरवाही से बर्मामाइंस स्थित केरला पब्लिक स्कूल की कक्षा छठी के दो विद्यार्थी गिरकर जख्मी हो गए थे. लोगों के चिल्लाने के बाद भी चालक गाड़ी अपनी धुन में चलाता रहा. लोगों ने पकड़कर उसकी पिटाई भी की थी.