JAMSHEDPUR: उड़ी के आर्मी कैंप हमले के विरोध में मानगो व जुगसलाई क्षेत्र में नमाज अदा करने के बाद शुक्रवार को पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ को पुतला दहन किया गया. साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी से मांग की गई कि आतंकियों के कैंप को ध्वस्त किया जाए.

मानगो गांधी मैदान के पास जुमा के नमाज के बाद काफी संख्या में लोग एतिहाद उल मुस्लिमीन के बैनर तले इकट्ठा हुए. भीड़ में शामिल लोगों ने पाकिस्तान प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ नारेबाजी की और उड़ी घटना में शहीद हुए क्8 जवानों को श्रद्धाजंलि दी गई. साथ ही नवाज शरीफ को पुतला दहन किया गया. एतिहाद उल मुस्लिमीन के अध्यक्ष हाजी फिरोज खान ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी अपने वादों को पुरा करें और पाकिस्तान को सबक सिखाने का काम करे. पुतला दहन में अफरोज शकील, मोहम्मद नौशाद, जाकिर खान, सफी अहमद, मोहम्मद पप्पू, कमल खान समेत काफी संख्या में लोग शामिल हुए. वहीं दूसरी ओर जुमा की नमाज के बाद जुगसलाई इदगाह मैदान में मुसलमान ए रसूल संस्था के लोग एकत्रित हुए. वहां से जुलूस के रूप में जुगसलाई फाटक तक पहुंचे. वहां पर एक सभा का आयोजन किया गया. इस मौके पर मौजूद लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी की और आतंकियों के कैंप को ध्वस्त करने की मांग की. साथ ही नवाज शरीफ का पुतला दहन किया गया. इस मौके पर अफजल अजीज, नसीम खान, अनवर अली समेत काफी संख्या में लोग शामिल हुए.