अमरीकी राजनयिकों पर प्रतिबंध
इस्‍लामाबाद (आइएएनएस)। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अमरीका के वाशिंगटन द्वारा पाकिस्‍तानी राजनयिकों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए जाने की घोषणा के बाद पाकिस्‍तान भी अमरीकी राजनयिकों पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहा है। डॉन न्‍यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के अधिकारियों द्वारा इस्‍लामाबाद, लाहौर और कराची में तैनात अमरीकी राजनयिकों पर प्रतिबंध लगाने की योजना बनाया जा रहा है। बता दें कि अमरीकी राजनयिको पर वहां पहले से ही संघीय प्रशासित जनजातीय क्षेत्रों (एफएटीए) जैसे उच्च सुरक्षा वाले इलाकों में जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

अमरीका में 40 किमी से अधिक यात्रा नहीं कर सकते
फिलहाल पाकिस्तान में इस फैसले को लागू नहीं किया गया है। बता दें कि पिछले महीने अमरीका ने पाकिस्तान के राजनयिकों पर प्रतिबंध लगाते हुए यह बयान जारी किया था कि पाकिस्तानी डिप्लोमेट्स को बिना किसी अनुमति के वाशिंगटन में स्थित दूतावास से 40 किमी से अधिक यात्रा नहीं करना है, उन्हें उसी इलाकों के दायरों में घुमना है।

निर्णय ठीक नहीं है
अमरीकी सांसद डोनाल्‍ड नोरक्रॉस ने इस मामले पर एक बयान जारी करते हुए कहा, ‘किसी भी मसले पर बातचीत जरूरी है और यदि (इन प्रतिबंधों को लगा रहे हैं) हम वार्ता को रोक रहे हैं तो मुझे नहीं लगता कि यह उचित है। इसके बाद गुरुवार को अमरीका में मौजूद पाकिस्‍तान के राजदूत एजाज चौधरी ने इस फैसले को गलत बताते हुए वॉयस ऑफ अमेरिका से कहा, 'मेरे विचार से यह उचित निर्णय नहीं है।' बता दें कि पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इसे पारस्परिकता का मामला बताया है क्योंकि क्‍योंकि सुरक्षा कारणों से अमरीकी समेत कई विदेश राजनयिकों को पकिस्तान में प्रतिबंध का सामना करना पड़ता है।

International News inextlive from World News Desk