agra@inext.co.in
AGRA : आपने इत्मीनान से रेल सफर करने के लिए रिजर्वेशन कराया हो। जब ट्रेन पकडऩे के लिए स्टेशन पहुंचे तो आपकी टिकट पर दर्शाई गई नंबर की बोगी ही गायब मिले। रेलवे की लापरवाही से ऐसा ही मामला सामने आया है। पीडि़त पैसेंजर ने क्षतिपूर्ति वाद के लिए जिला उपभोक्ता फोरम में वाद दायर किया। इस पर उपभोक्त फोरम ने रेलवे अधिकारियों को नौ अक्टूबर को तलब किया है।

ये था मामला
कमला नगर निवासी मुन्नालाल अग्रवाल ने आठ सितम्बर 2017 को सम्पर्क क्रान्ति एक्सप्रेस में एसी द्वितीय श्रेणी में बांदा से आगरा के लिए तत्काल कोटे में टिकट बुक कराया था। पीडि़त के अनुसार उसने 1570 रुपये में ई-बैंकिंग के माध्यम से टिकट बुक कराया था। जब नौ सितम्बर 2017 को वादी यात्रा के लिए स्टेशन पर पहुंचा, तो पता चला कि उसका रिजर्वेशन जिस बोगी में है, वह ट्रेन में लगी ही नहीं है। दूसरे कोच में टीटी को टिकट दिखाने पर द्वितीय श्रेणी के एसी में रिजर्वेशन होने के बावजूद काफी जद्दोजहद के बाद वादी को तृतीय श्रेणी में टिकट आवंटित की गई। इस दौरान उसे सफर करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। तबियत खराब होने पर भी उसने मुश्किलों से जूझते हुए अपना सफर पूरा किया।

फंसे बड़े अधिकारी
वादी मुन्नालाल अग्रवाल ने डीआरएम नॉर्थ सेंट्रल रेलवे झांसी, स्टेशन मास्टर बांदा, चीफ कमर्शियल मैनेजर रिफंड कार्यालय नई दिल्ली, सम्बन्धित टीटीई डिवजीन कमर्शियल मैनेजर कार्यालय आगरा कैंट को पक्षकार बनाया है। सेवा में कमी होने पर पांच लाख की क्षतिपूर्ति एवं वाद व्यय के रूप में 11 हजार रुपये दिलाने का आग्रह किया है। इस पर उपभोक्त फोरम ने नौ अक्टूबर के लिए विपक्षीगणों को नोटिस जारी किया है।

पत्नी को 'आई लव यू' कहकर कानपुर एसपी ने खाया जहर, पढ़ें क्या-क्या लिखा सुसाइड लेटर में

Crime News inextlive from Crime News Desk