-हार्ड टिकट की जगह ई-टिकट लेने में बढ़ा पैसेंजर का इंट्रेस्ट

-टिकट बुकिंग व कैंसिल कराने में सुविधा बनी वजह

1ड्डह्मड्डठ्ठड्डह्यद्ब@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

ङ्कन्क्त्रन्हृन्स्ढ्ढ

ट्रेंस के डिस्टर्ब रहने और हर हाथ में रेलवे टिकट बुक करने की व्यवस्था होने के बाद कैंट रेलवे स्टेशन के रिजर्वेशन काउंटर पर पहुंचने वालों की सं2या में कमी आ गई है. कैंट स्टेशन पर पहले जहां 600 से 1000 काउंटर टिकट की डेली बुकिंग होती थी. अब रिजर्वेशन सेंटर की तीन विंडो से बमुश्किल 400 से 500 टिकट बुक होता है. रेलकर्मियों के अनुसार जब घर बैठे ऑनलाइन टिकट बुक हो जा रहा है तो 5ाला कौन काउंटर पर 5ाीड़ में लाइन लगाकर टिकट लेगा. वहीं सबसे बड़ा कारण यह 5ाी है कि काउंटर टिकट को कैंसिल कराने में 5ाी 5ारी परेशानी होती है, जबकि ऑनलाइन टिकट आसानी से रिफंड हो जाता है.

विदेशी लेते हैं काउंटर टिकट

स्टेशन के रिजर्वेशन काउंटर्स पर वे ही लोग पहुंच रहे हैं जो या तो ऑनलाइन के बारे जानकारी नहीं र2ाते या उनको मजबूरी में वेटिंग में 5ाी यात्रा करनी हो. 1योंकि ऑनलाइन टिकट अगर कंफर्म नहीं होगा तो वह अपने आप कैंसिल होकर रिफंड हो जाएगा और जर्नी बे्रक हो जाएगी. काउंटर टिकट लेने में दूसरे देशों से आए टूरिस्ट 5ाी इंटरेस्ट लेते हैं 1योंकि काउंटर्स से उनको यात्रा के बारे में सही जानकारी 5ाी मिल जाती है.

रिफंड का नहीं रहता झंझट

पिछले एक साल में शायद ही कोई महीना ऐसा रहा हो जब किसी न किसी वजह से ट्रेंस कैंसिल व लेट न रही हों. पूरे साल यह प्रॉ4लम रही. ऐसी स्थिति में टिकट की बुकिंग कराए लोगों को ट्रेन कैंसिल होने पर अपना टिकट कैंसिल कराने के लिए रेलवे स्टेशन आना होता है. इस स्थिति में ऑनलाइन टिकट बुक कराने वालों को ही राहत है. उन्हें अपना टिकट बनवाने और कैंसिल कराने के लिए स्टेशन की 5ागदौड़ नहीं करनी पड़ती है.

सं2या बढ़ाने पर हो रहा मंथन

सोर्सेज के अनुसार रेल मंत्रालय देश के ए-1 और ए ग्रेड स्टेशंस पर रिजर्वेशन काउंटर रात में भी खुले रखने पर विचार कर रहा है. बनारस का कैंट स्टेशन 5ाी इन शहरों में शामिल है. टिकटों की ब्रिक्री कम होने की स्थिति में रेलवे यह व्यवस्था लागू करने की तैयारी जोरशोर से कर रहा है. यह व्यवस्था अगले साल से लागू हो सकती है.

रिजर्वेशन काउंटर से टिकट कम बुक होने का एक ही कारण है कि ऑनलाइन टिकट ज्यादा बुक हो रहे हैं. 2ास बात यह कि लोगों को बिना स्टेशन आए ही घर पर टिकट बुक और कैंसिल करने की सुविधा मिल जा रही है.

अश्वनी श्रीवास्तव, सीआरएम

आईआरसीटीसी, ल2ानऊ