शहर के धार्मिक स्थलों का भ्रमण कर यात्रियों ने ली इतिहास की जानकारी

ऑनलाइन टै्रकिंग सिस्टम रहा अपडेट, मोबाइल पर मिलती रही लोकेशन

Meerut. रविवार को मेरठ हेरिटेज दर्शन के तीसरे भ्रमण का आयोजन किया गया. भ्रमण के दौरान यात्री मेरठ के 10 से अधिक ऐतिहासिक और धार्मिक स्थलों से रू-ब-रू हुए. इस दौरान ऑनलाइन टै्रकिंग सिस्टम अपडेट रहा और मोबाइल पर बस की लोकेशन मिलती रही.

इतिहास को जाना

मेरठ हेरिटेज दर्शन के तीसरा भ्रमण आयुक्त कार्यालय से आरंभ हुआ. इसमें यात्रियों को नाश्ता कराकर विक्टोरिया पार्क से किला गांधारी सरोवर, हस्तिनापुर, कर्ण मंदिर, अष्ठापद, बड़ा जैन मंदिर, कैलाश पर्वत होते हुए जंबूदीप मे भोजन कराकर सरधना ले जाया गया.

गाइड ने दी जानकारी

सरधना में रोमन कैथोलिक चर्च दिखा कर यात्रियों को भोला की झाल से गंगोल तीर्थ का भ्रमण कराया गया. टूर के दौरान बतौर गाइड मौजूद रहे मिशिका ग्रुप से अमित तिवारी ने यात्रियों को मेरठ के इतिहास की रोचक जानकारियां दी. इसके बाद शहर की शाही ईदगाह, शहीद स्मारक दिखाकर कांच का गुरुद्वारा और काली पल्टन मंदिर पर भ्रमण समाप्त हुआ. यात्रा के दौरान ऑडियो व वीडियो के माध्यम से सभी स्थलों की जानकारी दी गई.

यात्रा के तीसरे चरण में मेरठ के इतिहास से यात्रियों को रू-ब-रू कराया गया. हमारा प्रयास है कि यात्रियों को मेरठ से जुड़े रोचक विषयों और तथ्यों से अवगत कराएं.

विवेक खरे, कोर्डिनेटर