क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ: रिम्स में मरीजों की डाइट के साथ लगातार खिलवाड़ हो रहा है. इसके बावजूद प्रबंधन एजेंसी पर कार्रवाई करने की बजाय मेहरबान है. इसी का फायदा उठाकर एजेंसी ने गुरुवार को मरीजों के रात का खाना दिन को 12 बजे ही तैयार कर दिया. इतना ही नहीं, ठंड होने के बावजूद रात को मरीजों को परोसी जाने वाली रोटियां भी दोपहर में बनाकर रख दी गई थीं. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि जब मरीजों को रात का खाना दिया गया होगा उस वक्त खाने की क्या स्थिति रही होगी. गुरुवार को डायटीशियन छुट्टी पर थीं. यह देख एजेंसी के सुपरवाइजर और स्टाफ्स ने जमकर मनमानी भी की. वहीं दिन में बचा खाना भी मरीजों को परोस दिया गया. बताते चलें कि इससे पहले भी मरीजों की डाइट के साथ खिलवाड़ करने पर एजेंसी पर फाइन लगाया जा चुका है. वहीं रात का खाना तीन बजे के बाद बनाने का आदेश दिया गया है.

ओपीडी में कम आए मरीज

फेस्टिव सीजन का असर रिम्स में भी देखने को मिल रहा है. जहां ओपीडी में हर दिन 1500 मरीज इलाज के लिए पहुंचते हैं. लेकिन, दिवाली-छठ को लेकर मरीजों की संख्या 500 के करीब हो गई है. वहीं एक-दो दिनों में मरीजों की संख्या और घटने की आशंका जताई जा रही है. डॉक्टरों का कहना है कि छठ के बाद से मरीजों की संख्या में इजाफा होगा. वहीं इनडोर में भी मरीज कम होते जा रहे हैं. इससे डॉक्टर और नर्सो ने थोड़ी राहत की सांस ली है, चूंकि कुछ दिनों पहले मरीजों की संख्या 18 सौ के पार चली गई थी, जो अब घटकर 1332 हो गई है.