-जिला महिला अस्पताल में भर्ती मरीज--80

-हर रोज सरकारी एंबुलेंस से आते हैं मरीज-20

-रजिस्टर में होती है एंट्री- 50 से 60

-गंभीर हालत में रेफर किए जाते हैं मरीज - 3 से 4

केस 1

कुछ माह पूर्व एंबुलेंस चालक ने खोवा मंडी स्थित एक प्राइवेट हॉस्पिटल में मरीज को भर्ती किया. इलाज के बाद मरीज की मौत हो गई. इसके बाद परिजनों ने एंबुलेंस और प्राइवेट हॉस्पिटल पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया. परिजनों ने इसकी शिकायत स्वास्थ्य विभाग से की थी.