- पटना पुलिस ने मंगलवार को किया बड़े गिरोह का खुलासा

- गौरी चक में पेट्रोल पम्प लूट के साथ कई बड़ी वारदात को दिए हैं अंजाम

- रंगदारी, हत्या, लूट की घटना को अंजाम देने वाले गैंग के निशाने पर थे पटना के दो व्यापारी

PATNA : पटना पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का खुलासा किया है जो ऐश करने के लिए हत्या, रंगदारी और लूट की घटना को अंजाम देता था. पुलिस ने आधा दर्जन बदमाशों की गिरफ्तारी कर कई लूट और हत्या के साथ रंगदारी की घटनाओं का खुलासा किया है. पुलिस का दावा है कि गौरी चक में पेट्रोल पम्प लूट की घटना, अगमकुआं में शीतला स्वीट हाउस के मालिक पर रंगदारी के लिए फायरिंग के साथ अन्य कई घटना का खुलासा किया है. पुलिस का दावा है कि वैशाली मुजफ्फरपुर, सारण और पटना के बड़े अपराधियों के साथ मिलकर ये बड़ी वारदात को अंजाम देते थे. पटना पुलिस का कहना है कि इस गैंग के अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

- दिन दहाड़े की थी पम्प से लूट

पटना के गौरी चक में स्थित स्नेह फ्यूल पेट्रोल पम्प से क्ख् जून को बदमाशों ने लगभग क्8 लाख रुपया लूट लिया था. दिन दहाड़े हुई लूट की इस घटना से न सिर्फ पुलिस की चुनौती बढ़ी थी बल्कि सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़ा हो गया था. एसएसपी ने घटना के खुलासे के लिए नगर पुलिस अधीक्षक पूर्वी के नेतृत्व में एक टीम बनाई थी जिसे इस घटना के खुलासे की जिम्मेदारी दी गई.

- टीम को नहीं मिला सुराग, एसएसपी तक आई सूचना

घटना के खुलासे के लिए सिटी एसपी पूर्वी की टीम काम कर रही थी लेकिन उनके हाथ कोई बड़ा सुराग नहीं आया. पुलिस प्रतिदिन हाथ पैर मार रही थी लेकिन वह कोई सुराग नहीं लगा पाई. पटना के एसएसपी मनु महाराज का कहना है कि उनके पास गोपनीय सूचना आई जिसके आधार पर उन्होंने खुलासे में लगी सिटी एसपी पूर्वी की टीम को एक्टिव किया और बड़ा खुलासा हुआ.

- पुलिस की गिरफ्त में आते ही खुले कई राज

पुलिस टीम ने एसएसपी की सूचना के बाद बदमाशों को गौरी चक के मुद्री चक से गिरफ्तार किया. बदमाशों ने बताया कि वह पेट्रोल पम्प को लूटने से पहले दिनों से उसके सामने बैठककर रेकी कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने बदमाशों को इकट्ठा किया और बड़ी घटना को अंजाम दे दिया. पुलिस की पूछताछ में उन्होंने बताया कि पटना के दो कारोबारी उनके निशाने पर थे. पुलिस को बताया कि गैंग में शामिल बदमाश घटना इस लिए करते थे कि वह लूट और हत्या के साथ अन्य वारदात से मिले पैसे से ऐश करते थे. वह बंगाल जाकर इस पैसे का इस्तेमाल करते थे.

- पुलिस की गिरफ्त में आए बदमाश

क्. प्रमोद कुमार केवट उर्फ राहुल

ख्. राहुल उर्फ बउआ

फ्. राहुल कुमार चंद्रा

ब्. चुन्नू उर्फ कृष्णकांत

भ्. नितिश कुमार

म्. रवि कुमार उर्फ सिंघाड़ा

कई सामान बरामद सामान

पुलिस के मुताबिक बदमाशों के पास से दो पिस्टल, भ् जिंदा कारतूस, एक अंगूठी, घटना में प्रयोग हुई मोटर साइकिल, लूटे हुए बैग के पासबुक एवं कागजात शामिल है. पुलिस का कहना है कि इस घटना में शामिल अन्य बदमाश फरार हैं जिन्हें गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है.