-30 जनवरी को बोर्ड ऑफ कंट्रोल की बैठक में तय होगी नई कमेटी

-40 सदस्यों का कोरम पूरा होने के बाद ही चुनी जाएगी नई मैनेजमेंट कमेटी

BAREILLY :

शासन की अनुमति के बाद बरेली कॉलेज पर कंट्रोलर बनाकर क्षेत्रिय उच्च शिक्षाधिकारी डॉ. राजेश प्रकाश को बैठा दिया गया है. उन्होंने कंट्रोलर का काम संभालते ही बरेली कॉलेज के सभी भुगतानों पर रोक लगा दी है. उन्होंने पहले किए भुगतानों की जांच के बाद आगे का भुगतान किए जाने की बात कही है. नई प्रबंध समिति के गठन तक आरएचईओ के पास बरेली कॉलेज को संभालने का जिम्मा रहेगा.

पुराने भुगतानों की भी होगी जांच

बरेली कॉलेज में बोर्ड ऑफ कंट्रोल के 14 सदस्यों का अनुमोदन के दस्तावेज न दिखा पाने के कारण बरेली कॉलेज मैनेजमेंट कमेटी के पर्यवेक्षक ने 14 सदस्यों को अवैध करार दिया था. साथ ही 1988 के बायलॉज में किए गए संशोधन को निरस्त करने को अवैध करार दिया. पर्यवेक्षक एके जेटली ने कुलपति से बीसीबी में कंट्रोलर बैठाने की मांग की थी, जिस पर कुलपति ने मामले में शासन से अनुमति मांगी थी. फ्राइडे को अनुमति मिलते ही कंट्रोलर बैठा दिया गया.

14 सदस्यों की सेवाएं होंगी समाप्त

बरेली कॉलेज की 30 जनवरी को होने वाली बोर्ड ऑफ कंट्रोल की बैठक में 14 अवैध सदस्यों की सदस्यता समाप्त की जाएगी. इनकी जगह पर नए सदस्य बनाए जाएंगे, 40 सदस्यों का कोरम पूरा होने के बाद ही नई मैनेजमेंट कमेटी चुनी जाएगी. बैठक में अफसर भी शामिल होंगे.

===============

बरेली कॉलेज के नए भुगतान पर रोक लगा दी गई है, पहले पुराने भुगतानों की जांच कराई जाएगी. पूरी डिटेल कमिश्नर को सौप दी है.

डॉ. राजेश प्रकाश, क्षेत्रिय उच्च शिक्षाधिकारी