सेना भर्ती में लगी थी जवानों की ड्यूटी
गोरखपुर में सेना भर्ती रैली के लिए सिक्योरिटी का पुख्ता इंतजाम किया था। इसके लिए आजमगढ़ की 20वीं वाहिनी की आई कंपनी बुलाई गई थी। इसमें 135 जवान आए हुए है। बताया जाता है कि सैटर्डे मार्निंग पीईटी में दल नायक ने जवान राजकुमार को उंगली के इशारे से बुलाया। तीन दिन बाद ड्यूटी से लौटा राजकुमार इशारा नहीं समझ पाया। इससे आग बबूला होकर दल नायक ने जवान को गालियां दीं। आरोप है कि उसके मना करने पर दल नायक ने लात-घूसों से पिटाई की। जवानों ने बीच बचाव कराकर मामला शांत कराया। घायल राजकुमार को डिस्ट्रिक्ट हास्पिटल में एडमिट कराया गया।

जवानों ने की भूख हड़ताल, हटाए गए कमांडर
पीएसी जवानों का आरोप है कि दल नायक का व्यवहार ठीक नहीं है। सेना भर्ती रैली में 12-12 घंटे की लगातार ड्यूटी के बाद भी वह परेड कराते थे। गालियां देकर बात करते हैं। इसके पहले तीन जवानों की पिटाई कर चुके हैं। सैटर्डे मार्निंग हुई घटना के बाद जवानों ने मेस में जाने से इंकार कर दिया। इसकी सूचना से हड़कंप मच गया। बाद में मौके पर पहुंचे सेना नायक रामपाल ने जवानों को समझा बुझाकर शांत कराया। आरोपी अशोक सिंह को हटाकर उनकी दूसरे दल नायक को बुलाया गया है। मामले की जांच क्वार्टर मास्टर को सौपी गई है।