पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ने लोगों का बजट बिगड़ा

पिछले साल अक्टूबर में घटे थे पेट्रोल व डीजल के दाम

Meerut. पेट्रोल के दाम 74 के पार पहुंच गए हैं. सरकार द्वारा बाजार के भाव पर पेट्रोल व डीजल के दाम करने के बाद से लगातार पेट्रोल व डीजल के दाम में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है. पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ने से महंगाई पर असर पड़ रहा है.

अक्टूबर में घटाए थे दाम

केंद्र सरकार ने अक्टूबर 2017 में पेट्रोल के दाम दो रुपये घटाए थे. तब पेट्रोल 72 रुपये के पार पहुंच गया था. उसके बाद चार माह में चार रुपये से अधिक पेट्रोल के दाम बढ़ गए हैं.

ये है दाम

हिन्दुस्तान पेट्रोलियम- 74.17 रुपये

इंडियन ऑयल- 74.21 रुपये

भारत पेट्रोलियम- 74.13 रुपये

पेट्रोल के दाम ने तो हद ही कर रखी है. दिन ब दिन दाम बढ़ते जा रहे हैं. 74 के पार पेट्रोल के दाम पहुंच गए है. बावजूद इसके सरकार इस ओर ध्यान ही नहीं दे रही है. सरकार को इसको कम करना चाहिए.

रजत गुप्ता

जब से केंद्र में भाजपा की सरकार आई है तब से हर चीज की महंगाई बढ़ रही है. पेट्रोल के दाम भी इसमें शामिल है. सरकार को इसको भी वैट के अंतर्गत लाना चाहिए. जिससे दाम तो कम होंगे.

ब्रिजेश मिश्रा

पेट्रोल के दाम बढ़ने के कारण अन्य चीजें भी महंगी होती जा रही है. जिस हिसाब से महंगाई बढ़ रही है उस हिसाब से सरकार लोगों की सैलरी भी बढ़ानी चाहिए. लेकिन सरकार को आम आदमी से कोई मतलब ही नहीं है.

रजनीकांत जैन