- पेट्रोल-डीजल के दाम में प्रतिदिन हो रही बढ़ोत्तरी के बीच कम हुई नए व्हीकल्स की बुकिंग

GORAKHPUR: पेट्रोल-डीजल के बढ़ते जा रहे रेट्स का असर आटोमोबाइल मार्केट पर भी दिखना शुरू हो गया है. हाल ये कि फ्यूल रेट्स में उछाल के बाद इधर गोरखपुर के व्हीकल शोरूम्स में नई बुकिंग्स का ग्राफ सीधे 50 प्रतिशत गिर गया है. प्रोपराइटर्स का कहना है कि बढ़ते फ्यूल रेट्स के चलते क्वेरीज तो काफी आ रही हैं लेकिन हायर क्लास को छोड़ दिया जाए तो मिडिल क्लास कस्टमर्स गाडि़यों की बुकिंग में हिचक रहे हैं. पहले जहां डेली 10-15 गाडि़यों की बुकिंग मिल जाती थी लेकिन अब 5-8 बुकिंग्स ही मिल रही हैं. हालांकि पहले से बुक हुई गाडि़यों की बिक्री पर पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का कोई खास असर नहीं है.

कार के सपने पर लग जा रहा ब्रेक

गुरुवार को स्पीड पेट्रोल का दाम 80.22 रुपए व सादा पेट्रोल 77.93 रुपए प्रति लीटर रहा. वहीं, बुधवार को स्पीड पेट्रोल का दाम 79.99 रुपए प्रति लीटर व सादा पेट्रोल 77.69 रुपए था. जबकि गुरुवार को डीजल का दाम 68.50 व बुधवार को 68.31 रुपए था. फ्यूल रेट्स के इस उछाल ने ऑटोमोबाइल मार्केट पर भी असर डाला है. हायर और अपर मिडिल क्लास द्वारा कार खरीदने के आंकड़ों पर तो इसका असर नहीं है. लेकिन नई कार खरीदने की सोच रहे लोअर मिडिल क्लास के तमाम लोग फिलहाल इसे टालने पर ही जोर देते दिख रहे हैं. मारुति कंपनी के सेल्स मैनेजर श्रीधर द्विवेदी ने बताया कि पेट्रोल रेट हाइक के बाद लग्जरी गाडि़यों की बुकिंग और बिक्री पर तो कोई असर नहीं पड़ा है. हां, मिडिल क्लास के बजट में फिट बैठने वालीं लो कॉस्ट कारों की बुकिंग जरूर कम हो गई है.

दो पहिया शो रूम हो या फिर चार पहिया कार के शो रूम, पहले से बुकिंग करा चुके लोगों के गाड़ी खरीदने की तादाद में तो कमी नहीं आई है. लेकिन ऑटोमोबाइल मार्केट के एक्सप‌र्ट्स की मानें तो फ्यूल के दाम बढ़ने से न्यू बुकिंग पर असर पड़ा है. जहां पहले डेली 10-15 गाडि़यों की बुकिंग मिल जा रही थी. वहीं, इन दिनों ये तादाद 5-8 हो गई है. इनमें मिडिल क्लास फैमिली के तमाम लोग शामिल हैं जो गाड़ी खरीदने के लिए क्वैरी तो कर रहे हैं लेकिन पेट्रोल-डीजल के बढ़ते हुए दामों को देखकर फिलहाल अपनी प्लानिंग कैंसिल कर दे रहे हैं.

गुरुवार को ये रहा रेट

फ्यूल रेट

पेट्रोल सादा 77.93

पेट्रोल स्पीड 80.22

डीजल 68.50

बुधवार को ये रहा रेट

फ्यूल रेट

पेट्रोल सादा 77.69

पेट्रोल स्पीड 79.99

डीजल 68.31

सिटी में पेट्रोल पंप की संख्या

भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन - 12

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन - 20

हिंदुस्तान पेट्रोलियम - 10

कोट्स

प्रति दिन पेट्रोल-डीजल के बढ़ रहे रेट ने परेशान कर दिया है. अगर यही हाल रहा तो फिर आने वाले दिनों में मंहगाई बढ़ना तय है. इसका असर मार्केट में दिखना शुरू हो गया है. सरकार को इस पर ठोस कदम उठाने की जरूरत है.

रिचा चौधरी, प्राइवेट एंप्लॉई

पेट्रोल-डीजल के दाम में हो रहे वृद्धि पर अंकुश लगाने के लिए सरकार को ठोस कदम उठाने की जरूरत है. अगर इसी तरह से डेली रेट बढ़ता रहा तो ट्रांसपोर्टेशन चार्ज बढ़ेगा और ऑटोमैटिकली मंहगाई से लोगों के घर का बजट बिगड़ना शुरू हो जाएगा.

- डॉ. सुरेश द्विवेदी, सर्विसमैन

जिस तरह से फ्यूल का रेट बढ़ रहा है निश्चित ही बजट डिस्टर्ब हो गया है. अब इसी से अंदाजा लगा लीजिए कि ऑटोमोबाइल सेक्टर पर भी इसका असर पड़ रहा है.

- डेविड सिरिल, प्रिंसिपल, सेंट जूड्स स्कूल

डेली स्कूल जाना होता है. लेकिन यही हाल रहा तो ट्रांसपोट्र्रेशन चार्ज बढ़ेगा. कुछ जगहों में तो बढ़ भी गया है. फोर व्हीलर लेने का मन बन रहा था लेकिन अभी इसे टाल दिया है. बुकिंग कराने की सोच रहे थे लेकिन वह भी नहीं हुआ.

- जया द्विवेदी, टीचर

वर्जन

पेट्रोल-डीजल का दाम प्रति दिन बढ़ रहा है. निश्चित तौर पर इसका असर मार्केट पर पड़ना अब शुरू हो चुका है. रेट घटने का संकेत अभी तक नहीं आया है.

- चंद्र प्रकाश खेतान, उपाध्यक्ष, उत्तर प्रदेश पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन