नर्इ दिल्ली (पीटीआर्इ)। एक वरीष्ठ अधिकारी ने बताया कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक एक बहु प्रतीक्षित योजना है जिसकी शुरुआत पीएम मोदी 1 सितंबर को करेंगे। सरकार की कोशिश रहेगी कि आर्इपीपीबी की हर जिले में कम से कम एक शाखा हो। इसका उद्देश्य गांव तक वित्तीय सेवाएं पहुंचाने की है। पहले इसकी शुरुआत 21 अगस्त को होनी थी लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर सात दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित होने के कारण कार्यक्रम में परिवर्तन करना पड़ा। एक अधिकारी ने कहा कि सरकार की कोशिश रहेगी कि साल के अंत तक 1.55 पोस्ट आॅफिस की शाखाएं आर्इपीपीबी की सुविधा से लैस हो जाएंगी जो ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराने में सक्षम होंगीं। यह व्यवस्था देश की सबसे बड़ी बैंकिंग नेटवर्क होगी जिसकी पहुंच गांव-गांव तक होगी।

पोस्ट आॅफिस के जरिए गांव में भी पहुंचेगी डिजिटल बैंकिंग
आर्इपीपीबी के सीर्इआे सुरेश सेठी ने पहले कह चुके हैं कि आर्इपीपीबी 650 शाखाआें के साथ लाइव होगी। इसके साथ ही पोस्ट आॅफिस में 3,250 एक्सेस प्वाइंट आैर करीब 11,000 पोस्टमैन के जरिए ग्रामीण आैर शहरी क्षेत्र में डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं मुहैया कराएंगे। आर्इपीपीबी को 17 करोड़ पोस्टल सेविंग बैंक अकाउंट लिंक करने की मंजूरी दी गर्इ है। आर्इपीपीबी के जरिए ग्रामीण इलाकों में भी लोग डिजिटल बैंकिंग आैर वित्तीय सेवाआें का लाभ ले सकेंगे। इन सेवाआें में मोबाइल एप के जरिए या पोस्ट आॅफिस जाकर किसी भी बैंक अकाउंट में मनी ट्रांसफर करने की सहूलियत शामिल है। एयरटेल आैर पेटीएम के बाद आर्इपीपीबी तीसरी एेसी संस्था होगी जिसे पेमेंट बैंक की सुविधा मिल रही है।

आर्इपीपीबी का एप भी होगा लांच
पेमेंट बैंक व्यक्तिगत आैर छोटे कारोबार में एक लाख रुपये तक की जमा करा सकते हैं। पोस्टल पेमेंट बैंक को आरटीजीएस, एनर्इएफटी आैर आर्इएमपीएस ट्रांजेक्शन के जरिए किसी भी बैंक खाते से मनी ट्रांसफर कर सकेंगे। थर्ड पार्टी अनुबंधों के जरिए आर्इपीपीबी में खाताधारक रेगुलर बैंकिंग ग्राहक जैसे वित्तीय सेवाआें का लाभ ले सकते हैं। नरेगा भुगतान, सब्सिडी, पेंशन जैसे सरकारी भुगतान इसी पेमेंट बैंक के जरिए किए जाएंगे। उम्मीद है कि उसी दिन आर्इपीपीबी एप भी लांच कर दिया जाए। इस एप के जरिए ग्राहक फोन रिचार्ज, बिल, बिजली का बिल, डीटीएच सर्विस, काॅलेज फीस के भुगतान जैसे 100 से अधिक सेवाआें का लाभ उठा सकेंगे, जो नेशनल पेमेंट काॅरपोरेशन आॅफ इंडिया के भारत बिल पेमेंट सिस्टम (भीम) पर मौजूद हैं।

पोस्‍ट ऑफिस खाते से किसी भी बैंक अकाउंट में करें मनी ट्रांसफर, इंडिया पोस्‍ट के बचत खाते होंगे डिजिटल

Business News inextlive from Business News Desk