नई दिल्ली (पीटीआई)। पीएम नरेंद्र मोदी के नए मंत्रिमंडल में अमित शाह भी शामिल हो सकते हैं। इसके अलावा पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर भी मंत्री बन सकते हैं। सूत्रों की मानें तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमित शाह के साथ नए मंत्रियों को लेकर विचार-विमर्श शुरु कर दिया है। मोदी चाहते हैं कि नए मंत्रियों की लिस्ट राष्ट्रपति भवन भेजने से पहले सबकुछ फाइनल हो जाना चाहिए। मोदी अपने नए सांसदों के साथ शाम 7 बजे शपथ लेंगे।

मोदी के दूसरे कार्यकाल में कौन बनेंगे मंत्री

नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में कौन-कौन मंत्री बनेंगे, इसको लेकर मोदी और शाह के बीच पिछले दो दिनों से मीटिंग चल रही है। लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा को 303 सीट दिलाने वाले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को भी मंत्री पद मिल सकता है, इसकी पूरी संभावनाएं हैं। सोर्सेज की मानें तो शाह को गृह या वित्त मंत्रालय की कमान सौंपी जा सकती है। इसके अलावा पार्टी के अन्य सीनियर नेता राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, प्रकाश जावड़ेकर, रवि शंकर प्रसाद, धर्मेंद्र प्रधान और स्मृति इरानी भी नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में मंत्री की जिम्मेदारी निभा सकते हैं। वहीं सदानंद गौड़ा, गजेंद्र सिंह शेखावत, मुख्तार अब्बास नकवी, जयंत सिन्हा, गिरिराज सिंह, राज्यवर्धन सिंह राठौर, दिलीप जोशी, जितेंद्र सिंह और पुरषोत्तम रुपला, किरण रिजिजु, रामेश्वर तेली, श्रीपद नाइक, अगाथा संगमा भी मंत्रिमंडल में शामिल होने की संभावनाएं हैं।

PM Modi Oath Ceremony : पिछली बार से किस तरह अलग होगा मोदी सरकार का शपथग्रहण

PM Modi's swearing in ceremony guest list : मोदी सरकार के शपथग्रहण में शामिल होंगे यह विदेशी मेहमान

नए चेहरे भी हो सकते हैं शामिल

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में कुछ नए चेहरे भी मंत्री बन सकते हैं। इसमें प्रहलाद पटेल, कैलाश चौधरी, कृष्णा रेड्डी, सुरेश अंगेदी और रावसाहब दानवे का नाम सबसे ज्यादा चर्चा में है। सूत्रों की मानें तो इस बार नरेंद्र मोदी के कैबिनेट में कई नेता पहली बार शामिल होने वाले हैं। इसके अलावा एनडीए में शामिल शिव सेना के नेता अरविंद सावंत काउंसिल ऑफ मिनिस्टर की रेस में सबसे आगे हैंं। सावंत ने इस बार लोस चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार मिलिंद देवड़ा को बड़े अंतर से हराया है। वहीं अकाली देल के नेता हरसिमरत बादल जोकि पिछली मोदी सरकार में फूड प्रोसेसिंग मिनिस्टर रहीं थी, वो भी नए काउंसिल ऑफ मिनिस्टर का हिस्सा हो सकती हैं।

ये बन सकते हैं मंत्री -

अरविंद सावंत - शिवसेना, मुंबई साउथ
नरेंद्र सिंह तोमर - मुरैना
सुब्रत पाठक - कन्नौज
गजेंद्र सिंह शेखावत - जोधपुर
सदानंद गौड़ा - बेंगलुरु नाॅर्थ
राजनाथ सिंह - लखनऊ
अर्जुन राम मेघवाल - बीकानेर
प्रकाश जावड़ेकर - राज्यसभा
रामदास अठावले - राज्यसभा
मुख्तार अब्बास नकवी - राज्यसभा
बाबुल सुप्रियो - आसनसोल
सुरेश अंगेदी - बेलगाम
जितेंद्र सिंह - उधमपुर
पीयूष गोयल - राज्यसभा
रवि शंकर प्रसाद - पटना
कृष्णा रेड्डी - तेलंगाना
प्रहलाद जोशी - धारवाड़
निर्मला सीतारमण - राज्यसभा
स्मृति इरानी - अमेठी
प्रहालद पटेल - दामोह
रवींद्रनाथ - थेनी, एआईडीएमके
पुरषोत्तम रुपेला - राज्यसभा
मनसुख मांडवीय - पलीतना
राव इंद्रजीत - गुरुग्राम
कृष्ण पाल गुर्जर - फरीदाबाद
अनुप्रिया पटेल - अपना दल
किरण रिजिजु - अरुणाचल वेस्ट
कैलाश चौधरी - बाडमेड़
संजीव बालियान - मुजफ्फरनगर
आरसीपी सिंह - जेडीयू, राज्यसभा
नित्यानंद राय - उजियारपुर
थावर चंद गहलोत - शाहजहांपुर
देबाश्री चौधरी - रायगंज
रमेश पोखरियाल निशांक - हरिद्वार
मनसुख वासना - बहरूच
रमेश्वर तेली - डिब्रूगढ़
हरसिमरत कौर बादल - भटिंडा
सुषमा स्वराज -
सोम प्रकाश - होशियारपुर
संतोष गंगवार - बरेली
रामविलास पासवान - राज्यसभा

National News inextlive from India News Desk