- पीएम नरेन्द्र मोदी के दौरे को लेकर बढ़ी प्रशासनिक एक्टिविटी, पुलिस ने भी शुरू की सुरक्षा की तैयारी

- 21 से शुरू है नवरात्र, शहर में बन रहे पंडाल और पूजा समितियों के गेट बढ़ा सकते हैं परेशानी

1ड्डह्मड्डठ्ठड्डह्यद्ब@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

ङ्कन्क्त्रन्हृन्स्ढ्ढ

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी काफी लंबे वक्त के बाद एक बार फिर से अपने संसदीय क्षेत्र बनारस आ रहे हैं. इसे लेकर तैयारियां जोर-शोर से शुरू हो गई हैं. 22 और 23 सितम्बर को दो दिनी पीएम के दौरे के कारण इस बार प्रशासनिक अमला ज्यादा परेशान है. वजह पीएम का आना नवरात्र के दौरान हो रहा है. 21 सितम्बर को शुरू हो रहे नवरात्र के अगले ही दिन पीएम आगमन पुलिस के लिए चैलेंज इसलिए है क्योंकि शारदीय नवरात्र बनारस का बड़ा इवेंट है. हर साल यहां दुर्गा प्रतिमाओं के अलावा देवी दर्शन के लिए भी भारी भीड़ होती है. जिसकी वजह से भारी फोर्स नवरात्र सुरक्षा में लगेगी.

प्लान है लंबा चौड़ा

पीएम मोदी का 22 सितंबर को वाराणसी आने का कार्यक्रम है. यहां उन्हे करोड़ों की योजनाओं का लोकार्पण करना है. पीएम के आने की सूचना मिलते ही अफसर तैयारियों में जुट गए हैं. पुलिस के लिए सिरदर्द इसलिए भी है क्योंकि पीएम मोदी के साथ सीएम योगी भी मौजूद रह सकते हैं. नवरात्र में दुर्गा प्रतिमाओं के लिए बनने वाला पंडाल कई जगह रोड पर काफी आगे तक होता. ऐसे में भी दिक्कत हो सकती है. इसलिए सुरक्षा की डबल प्लानिंग पुलिस को करनी है.

ये है प्लान

- पीएम 17 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे

- छह परियोजनाओं का शिलान्यास भी पीएम करेंगे

- 22 सितम्बर को रात्रि विश्राम डीरेका में करेंगे.

- 22 सितंबर को बड़ा लालपुर में ट्रेड फैसिलिटी सेंटर का उद्घाटन करेंगे

- 23 सितंबर को वह प्रधानमंत्री आवास योजना और ऋणमोचन के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र देंगे.

- 22 सितंबर को गंगा नदी पर बने घाट और बलुआ पुल का लोकार्पण करेंगे

-इसी दिन रमना एसटीपी और अमृत योजना, 50,000 नए घरों तक सीवरेज और पेयजल कनेक्शन संबंधी योजनाओं का भी शिलान्यास करेंगे.

- आराजी लाइन के शहंशाहपुर में पशुधन मेला प्रदर्शनी में शिरकत करेंगे.

पीएम आगमन को लेकर तैयारियां चल रही हैं. सुरक्षा के लिए बाहर से भी फोर्स बुलाई जायेगी. नवरात्र के कारण पूजा पंडालों, होटल लॉज और गेस्ट हाउसेज की प्रॉपर निगरानी की जा रही है.

आरके भारद्वाज, एसएसपी