94

नाबालिग बच्चे इस वर्ष अब तक हुए गायब

220

बालिग लोग भी इस वर्ष अभी तक हो चुके हैं गायब

314

कुल बालिग व नाबालिग मिला कर है गायब होने वालों की संख्या

47

कुल नाबालिग व बालिग लोगों को ही अभी तक खोज सकी जिले की पुलिस

267

बालिग व नाबालिग मिला कर अब नहीं चल सका है पता

---------

किसी को नहीं पता कहां और किन परिस्थितियों में हैं जिले के 267 लोग

गायब हुए लोगों की तलाश में हांफ रही है अपराध के बोझ तले दबी पुलिस

ALLAHABAD: बढ़ते अपराध के बोझ तले दबी पुलिस जिले के गायब नाबालिग व बालिग लोगों की तलाश में हांफ रही है. नौ महीने में जिले से लापता 94 नाबालिगों में से 62 का पता अब तक नहीं चल सका. हत्या, लूट जैसी घटनाओं की विवेचना में उलझी पुलिस का ध्यान इस तरफ से भटक सा गया है. यही नहीं पुलिस लापता 220 बालिगों में से 205 का भी सुराग नहीं लगा सकी है.

नाबालिग ही नहीं बालिग भी गायब

जिले से लापता हुए 94 नाबालिगों में बालक 30 व बालिकाओं की संख्या 64 है. इनमें से 32 को पुलिस ने खोज निकाला. शेष 62 नाबालिगों की तलाश ठंडे बस्ते में है. विभागीय सूत्रों की मानें तो नौ महीने में गायब हुए 220 बालिग लोगों में पुरुषों की संख्या 107 व महिलाओं की 113 है. क्राइम मीटिंग में इस रिपोर्ट देखते हुए अफसरों ने सख्ती बरती तो पुलिस 08 पुरुष व 07 महिलाओं समेत कुल 15 लोगों को ढूंढ़ लिया. 205 का पता नहीं चला है. बालिग व नाबालिग को मिला कर अब भी जिले के 267 लोग गायब हैं. यह कहां और किन परिस्थितियों में हैं, यह किसी को नहीं मालूम. लापता हुए अपनों की तलाश में जुटे परिजनों की चप्पलें थानों का चक्कर लगाते-लगाते घिस चुकी हैं.

बाक्स

लापता महिला-पुरुष व बरामदगी

- नौ माह में जिले के 30 नाबालिग बालक व 64 बालिकाएं हुई लापता

- अब तक पुलिस 13 नाबालिग बालक व 19 बालिकाओं को कर चुकी है बरामद

- लापता हुए बालिग लोगों में 107 पुरुष व 113 महिलाएं हैं शामिल

- बालिगों की तलाश में जुटी पुलिस अब तक 08 पुरुष व 07 महिलाओं को ही खोज सकी

बाक्स

मुस्कान से दूर 'आपरेशन मुस्कान'

लापता लोगों की तलाश के लिए दो माह पूर्व जिले में 'आपरेशन मुस्कान' अभियान चलाया गया. कागजों की मानें तो जिले की पुलिस ने अभियान में कमरतोड़ मेहनत की. फिर भी परिणाम यह रहा कि अभियान में केवल 07 लड़के व 09 लड़कियां ही बरामद की जा सकीं. इस तरह लापता हुए सभी लोगों के परिजनों के चेहरे पर 'आपरेशन मुस्कान' भी मुस्कान नहीं ला सका.