थाना डौकी पुलिस ने बाइकों के साथ पकड़ा तीन सदस्सीय गैंग

न्यू आगरा पुलिस ने टक्कर मारने वाले लुटेरों का तीन सदस्यीय गैंग पकड़ा

आगरा. सिटी में और लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बदमाशों ने लूट कर पुलिस की नाम में दम कर रखा था. घटनाओं के बाद से पुलिस नजर बनाए हुए थी. डौकी पुलिस ने खेरिया कट के पास से तीन बदमाशों को पकड़ा है. इसी क्रम में न्यू आगरा पुलिस ने भी लूट करने वाले तीन सदस्सीय गैंग को जेल की हवा खिला दी है.

बाइक और मोबाइल किया बरामद

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों के नाम बंटी उर्फ बिट्टू उर्फ गजेंद्र सिंह उर्फ अंश पुत्र पूरन सिंह निवासी नगला डींग ताजगंज, मुकेश मोहन दीक्षित उर्फ अनीत दीक्षित उर्फ मुकेश पगला निवासी कृष्णा नगर, मथुरा, पुष्पेंद्र सिंह निवासी नगला डींग, ताजगंज बताए गए हैं. पुलिस ने इनके पास से पांच बाइक, एक एक्टिवा व एक मोबाइल बरामद किया है.

एमएससी का छात्र करा रहा था लूट

पुलिस के मुताबिक बंटी वाहन चलाता है. मुकेश आरबीएस कॉलेज में एमएससी मैथ प्रथम वर्ष का छात्र है. पूर्व में वह होटल क्लार्क सिरा में वैटरों का हैड रह चुका है, वर्तमान में वह ताजमहल के बाहर पर्यटकों को किताब बेचने काम कर रहा था. पुष्पेंद्र टीडीआई मोल ताजगंज में हंटिग हाउस का मालिक था जो उसने किसी को बेच दिया. वर्तमान में वह हंटिंग हाउस में ही कॉमेडी वीडियो एडिटिंग का काम कर रहा था.

महंगे शौक ने बनाया लुटेरा

पुलिस के मुताबिक अपनी गर्ल फ्रेंड को खुश करने और नशे की पूर्ति के लिए बदमाशों ने अपराध का रास्ता चुना. पकड़े गए बदमाश सूनसान रोड पर अकेले उस वाहन चालक को चुनते थे जिसके पास नई गाड़ी होती है. बदमाश उसका पीछा करते हुए कॉलर पकड़ कर गिरा लेते थे और तमंचा दिखा कर गाड़ी छीन लेते थे. मामले में सोनू और कृपाराम निवासी बुढ़ाना ताजगंज के नाम प्रकाश में आए हैं पुलिस उनकी तलाश कर रही है. पुलिस के मुताबिक पकड़े गए बदमाशों पर हत्या, लूट वाहन चोरी के मुकदमें दर्ज हैं.

न्यू आगरा पुलिस ने पकड़ा बड़ा गैंग

आगरा. थाना न्यू आगरा पुलिस ने केंद्रीय हिंदी संस्थान रोड से राजू पुत्र भोपाल सिंह निवासी एत्मादउद्दौला, इमरान पुत्र तोसिफ निवासी न्यू आगरा, पिंटू पुत्र नरसीराम निवासी एत्मादउद्दौला को पकड़ा है. पुलिस ने इनके पास से तीन मोबाइल, एक्टिवा, 2050 रुपये, तमंचा, चाकू बरामद किया है.

पुलिस पर किया था फायर

पुलिस के मुताबिक बदमाशों का काम रैकी कर मोबाइल लूटना और चोरी करना है. राजू ने पूछताछ में बताया कि 9 जुलाई 2016 को एत्मादपुर में रागीर की बाइक टक्कर मार कर गिरा दी. उससे तीन हजार रुपये, 5 अंगूठी, दो चैन पैडिल, मंगलसूत्र, पर्स व मोबाइल लूट लिया. 2016 में ही मुठभेड़ के दौरान पुलिस पर फायर किया था. बदमाश राजू का पिता भोपाल सिंह थाना एत्मादउद्दौला का हिस्ट्रीशीटर है.

बॉक्स

नई उम्र के हैं बदमाश

दोनों ही मामलों में बदमाशों की उम्र 20 से 25 वर्ष के बीच बताई गई है. न्यू आगरा पुलिस के मुताबिक बदमाश इमरान विजय नगर कॉलोनी में बाइक मैकेनिक के यहां काम कर रहा था जबकि पिंटू ट्रांस यमुना कॉलोनी में बाइक मैकेनिक के यहां काम कर रहा था. जब पुलिस ने इमरान को पकड़ा तो कॉलोनी वालों ने बताया कि वह तो मिस्त्री है लेकिन खुलासा होने के बाद सभी हैरान हैं.