क्या है मामला
एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक, आगरा जोन के आईजी सुनील कुमार गुप्ता ने थानों के औचक निरीक्षण के दौरान पाया कि कॉन्सटेबल मनीष सोलंकी और भूपेंद्र सिंह ने काफी स्टाइलिश ढंग से वर्दी पहन रखी थी. एक कॉन्सटेबल ने गहरे रंग का चश्मा भी लगा रखा था, जबकि दूसरे ने फ‍िल्‍म सिंघम के हीरो अजय देवगन की तरह काफी चुस्त पैंट पहन रखी थी. अधिकारी ने माना कि यह आरामदायक नहीं है. इतना ही नहीं इन दोनों पुलिसवालों ने कैप भी नहीं पहन रखी थी. आईजी ने कहा कि इन पुलिसवालों का ड्रेसिंग सेंस यूनिफॉर्म रूल्स के खिलाफ है. उन्होंने इन दोनों से कहा कि सिंघम या दबंग के किरदारों की तरह वर्दी न पहनें और पुलिस मैनुअल का पालन करें. बाद में एसएसपी शलभ माथुर को जब इस घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने अनुशासनहीनता, आदेश न मानने और पुलिस यूनिफॉर्म कायदे से न पहनने के आरोप में इन दोनों को सस्पेंड कर दिया.

दोनों कॉन्‍सटेबल बीते दो साल से जुड़े हैं टूरिज्म पुलिस के साथ
सस्पेंड हुए कॉन्सटेबल बीते दो साल से टूरिज्म पुलिस के साथ जुड़े हैं. टूरिज्म पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर सुशांत गौर का मानना है कि ये दोनों अपने काम में बेहद अच्छे हैं. एसएसपी शलभ ने बताया कि काले चश्मे या टाइट पैंट पहनना पुलिस यूनिफॉर्म का हिस्सा नहीं है. शलभ के मुताबिक, ये चीजें काफी मायने रखती हैं. बता दें कि इस कार्रवाई के बाद एसएसपी ने जिले के सभी पुलिस थानों पर तैनात पुलिसकर्मियों की वर्दी जांचने का अभियान शुरू किया है.
 
मूछों पर तो मिल गया इनाम
वहीं एमपी के मुरैना जिले में कुछ अलग ही हुआ. ऐस लगता है जैसे यहां भी पुलिस महकमे में मूंछों का बड़ा क्रेज है. यहां के पुलिस जवानों और नगर रक्षा समिति के सदस्यों में तलवार कट घनी झबरीली मूंछें रखने का चलन है. कई पुलिसकर्मियों को रोबीली मूंछों के लिए ऑफिशियली नकद इनाम दिया गया है. रविवार को एक जवान और दो रक्षा समिति सदस्य पुरस्कृत किए गए.  
 
पहले भी चार बार मिल चुका इनाम
एसपी ऑफिस में पदस्थ सिपाही साहब सिंह को मूंछों के लिए चार बार इनाम मिल चुका है. साहब सिंह को तत्कालीन एसपी इरशाद वली ने तीन बार अच्छी मूंछों के लिए इनाम दिया था, जबकि तत्कालीन आईजी डीसी सागर ने उन्हें बेहतरीन मूंछों पर 500 रुपए का इनाम दिया था. इसके पूर्व उन्हें रोबीली मूछों के लिए पूर्व में तत्कालीन एसपी डॉ. हरीसिंह यादव, एसपी रवि गुप्ता भी नकद इनाम दे चुके हैं.
 
इनकी भी मूछें हैं खास  
ट्रैफिक पुलिस के शंभूदयाल की मूंछों की तारीफ तत्कालीन एसपी श्रीवली काफी करते थे. यही कारण है कि शंभूदयाल ने मूंछों पर ज्यादा ध्यान देना शुरू किया. तत्कालीन आईजी डीसी सागर ने नगर रक्षा समिति के सदस्य हरिशंकर की मूंछों की तारीफ पुलिस दरबार में की थी. नगर रक्षा समिति के सदस्य राम सिंह को बेस्ट मूंछों के लिए तत्कालीन आईजी श्रीसागर ने 100 रुपए का इनाम देने की घोषणा की थी.

Hindi News from India News Desk

National News inextlive from India News Desk