पूर्व विधायक के बेटे ने दर्ज कराई है 35 लाख की जालसाजी की रिपोर्ट
allahabad@inext.co.in
ALLAHABAD: पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दस्यु सरगना शिवकुमार उर्फ ददुआ के भाई पूर्व सांसद बाल कुमार पटेल व बेटे वीर सिंह पटेल पर पुलिस का शिकंजा कसना शुरू हो गया है. 35 लाख रुपए की ठगी के मामले में पुलिस दोनों का बयान दर्ज करेगी. उतरांव थाने में दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस अब मोबाइल की कॉल डिटेल के साथ बैंक खातों की डिटेल खंगाल रही है.

पूर्व विधायक के बेटे ने किया केस
पूर्व विधायक जंगबहादुर पटेल के बेटे प्रमोद पटेल ने दस्यु सरगना शिवकुमार उर्फ ददुआ के भाई पूर्व सांसद बाल कुमार पटेल व बेटे वीर सिंह पटेल के खिलाफ उतरावं थाने में 35 लाख रुपए की ठगी का मामला दर्ज कराया है. उतरांव के याकूबपुर निवासी प्रमोद सरदार बल्लभ भाई पटेल एजूकेशन सोसायटी जलालपुर के चेयरमैन हैं. आरोप है कि संस्था के जरिए तीनों ने जालसाजी करके 2011 से 2013 के बीच में अलग-अलग चरणों में कुल 35 लाख रुपए की ठगी की.

लौटा दिए आठ लाख रुपये
जालसाजी की जानकारी के बाद प्रमोद पटेल ने पैसे की मांग की तो कुछ दिनों बाद उसे आठ लाख रुपए वापस कर दिया गया. काफी समय बीत जाने के बाद बाकी की रकम न मिलने पर प्रमोद पटेल ने बाकी रकम मांगी तो आरोपितों ने उसे ददुआ खौफ दिखाकर जान से मारने की धमकी दी. मंगलवार रात एसएसपी के आदेश पर उतरांव थाने में बालकुमार समेत तीन लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई.

दोनों पक्षों का दर्ज होगा बयान
एसपी गंगापार सुनील सिंह के मुताबिक मामले की जांच शुरू कर दी गई है. जहां दोनों पक्षों की कॉल डिटेल, बैंक खातों की डिटेल निकलवाई जा रही है. वादी के साथ ही आरोपित पक्ष के लोगों का बयान भी दर्ज किया जाएगा. साक्ष्य के आधार पर आरोपितों के खिलाफ आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी.