- नौ बजे से जुटे लोग देर शाम तक करते रहे बवाल

- एसपी सिटी ने पांच पुलिसकर्मियों के साथ संभाला मोर्चा

आगरा. शहर में धाकरान से लेकर रावली तक सबसे अधिक बवाल हुआ. धाकरान पर तो हालात काबू पाने के लिए एसपी सिटी ने खुद मोर्चा संभाला. हवाई फायरिंग कर प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर किया.

लेकिन, यहां से हटे प्रदर्शनकारियों ने कलेक्ट्रेट पर कब्जा कर लिया. दिनभर पुलिस हालात पर काबू पाने को दौड़ती रही.

मुस्लिम एरिया से शुरू हुआ पथराव

धाकरान पर सबसे पहले मुस्लिम एरिया में पथराव शुरू हुआ था. लोग छतों से पथराव कर रहे थे. भीड़ ने ऊपर की तरफ पत्थर उछाले. उस दौरान एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह चुनिंदा पुलिस कर्मियों के साथ मौके पर थे. पुलिस ने रोकने का प्रयास किया, लेकिन प्रदर्शनकारियों की संख्या अधिक थी. लोगों ने पुलिस की एक न सुनी.

होटल के शीशे किए चकनाचूर

इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने भाजपा नेता विजय शिवहरे के होटल पर पथराव कर दिया. फ्रंट पर लगे शीशे चकनाचूर कर दिए. पत्थर चलने से होटल कर्मियों में दहशत फैल गई. भीड़ को सम्भालने में पुलिस के हाथ-पैर फूल गए. उस दौरान होटल की तरफ से भीड़ पर फायरिंग की गई. फायरिंग होते ही भीड़ बेकाबू हो गई. लोगों ने तोड़फोड़ और पथराव तेज कर दिया.

गोली चलती देख भागी भीड़

जब हालात हद से बाहर जाते दिखे तो एसपी सिटी ने चुनिंदा पुलिसकर्मियों के साथ ही मोर्चा खोल दिया. एसपी सिटी ने भीड़ पर हवाई फायर ठोंका, जिससे भीड़ इधर-उधर हो गई. इसके बाद एसपी सिटी फायर करते हुए भीड़ के पीछे दौड़ लिए. भीड़ ने पुलिस का रौद्र रुख देखा तो आसपास की गलियों में दौड़ लगा दी. इसके बाद धाकरान चौराहे पर काफी हद तक भीड़ कम हो गई.