- स्टेशन रोड के होटलों में पुलिस ने मारा छापा

- कमरों में आपत्तिजनक हाल में मिले लव-बड्स

GORAJHPUR: शहर के होटल्स मौज-मस्ती का अड्डा बन गए हैं. घंटे के हिसाब से कीमत वसूलकर होटल संचालक लव बड्स को कमरे उपलब्ध कराते हैं. मंगलवार दोपहर रेलवे स्टेशन रोड के दो होटलों में क्राइम ब्रांच की टीम ने छापेमारी की. होटल के अंदर मौज उड़ा रहे 10 से अधिक प्रेमी जोड़ों सहित 21 लोग पकड़े गए. होटल में असलहे बरामद होने पर पुलिस ने संचालक, मालिक और मैनेजर को भी हिरासत में लिया. हालांकि दोनों होटलों में कैंट थाना के कुछ सिपाहियों का परमानेंट एसी कमरा बुक रहता था. बुलेट से चलने वाला एक सिपाही दोनों होटलों पर रोजाना पहुंचता है. एसपी क्राइम ने बताया कि सैक्स रैकेट संचालित होने की सूचना पर पुलिस ने कार्रवाई की है.

सर, छोड़ दीजिए दोबारा नहीं आएंगे

स्टेशन रोड के होटलों में सेक्स रैकेट चलने, प्रति घंटे की दर से युवक-युवतियों को कमरा उपलब्ध कराने की शिकायत एसएसपी को मिली थी. एसएसपी ने एसपी क्राइम आलोक शर्मा के नेतृत्व में टीम का गठन कर कार्रवाई का निर्देश दिया. सीओ क्राइम प्रवीण कुमार सिंह के साथ एसपी क्राइम ने भारी पुलिस बल के साथ छापेमारी की. मंगलवार दोपहर फोर्स लेकर एसपी ने रेलवे भर्ती बोर्ड के सामने आनंद गेस्ट हाउस और रायल होटल में दबिश दिया. पुलिस के आने से होटल संचालक, मैनेजर और कर्मचारी हड़बड़ा गए. इस दौरान अलग-अलग कमरों में 10 से अधिक प्रेमी जोड़े पकड़े गए. बदनामी के डर से पकड़े गए लोग हाथ-पैर जोड़ने लगे. पकड़े गए लव बड्स में ज्यादातर स्कूल-कालेज की छात्राएं थी. वह महिला पुलिस कर्मचारियों से मनुहार करती रहीं. युवतियों ने कहा कि इस बार उनको छोड़ दिया जाए. दोबारा कभी होटल में नहीं आएंगे.

कोई बाथरूम में तो कोई बेड नीचे छिपा

कोई बेड होटल में पहुंची पुलिस हर कमरे को खटखटाती रही. कमरों में मौजूद लोगों को कार्रवाई का आभास हो गया था. कुछ तो अपने कमरों में बेहद ही आपत्तिजनक हाल में मिले. कुछ लोग दरवाजा खोलने के बाद बेड के नीचे और बाथरूम में छिप गए. काफी देर तक उनका इंतजार करने के बाद पुलिस ने हिरासत में लिया. पुलिस ने सभी से कपड़ा पहनने को कहा. चेकिंग के दौरान आनंद गेस्ट हाउस में असलहे भी मिले. असलहों को कब्जे में लेकर पुलिस ने होटल संचालक, मैनेजर और कर्मचारियों को हिरासत में ले लिया.

पांच सौ से लेकर पांच हजार तक में कमरे

पुलिस की जांच में सामने आया कि होटलों के कमरे का किराया घंटे के हिसाब से लिया जाता था. मालिकों के कहने पर मैनेजर ने पांच सौ रुपए प्रति घंटे से लेकर पांच हजार तक रेट तय कर रखा था. सुबह 10 से लोगों का आना-जाना शुरू हो जाता था. देर रात तक प्रेमी जोड़े होटल से निकलते रहते थे. कार्रवाई में सामने आया कि ज्यादातर स्कूल-कालेज की छात्राएं अपने ब्वायफ्रेंडस संग होटल में आती थी. कुछ युवतियों के पास से महंगे मोबाइल फोन, कालेज यूनिफार्म और दो सेट ड्रेसेज मिले. इनमें एक कालेज की ड्रेस तो दूसरी सिविल ड्रेस है. गैर मुस्लिम छात्राओं के पास से बुरका मिलने पर पुलिस वाले असंमजस में पड़े रहे. एक लव बडस के पास से पुलिस ने 80 हजार रुपए का मोबाइल फोन बरामद किया.

थाने पर लगा जमावड़ा, करते रहे पैरवी

दो होटलों पर कार्रवाई से हड़कंप मचा रहा. प्रतिष्ठित परिवारों से जुड़े युवतियों और युवकों को घर ले जाने के लिए उनके परिजन देर रात तक कैंट थाना पर जुटे रहे. होटल संचालक और कर्मचारियों के छुड़ाने के लिए पुलिस पर दबाव बनता रहा. स्कूल और कॉलेज को निकली छात्राओं के होटल में जाने की सूचना से छात्राओं के परिजन भी परेशान नजर आए. किसी भी तरह के आरोप-प्रत्यारोप से बचने के लिए पुलिस हर कार्रवाई की वीडियोग्राफी कराती रही. जांच में सामने आया कि दोनों होटलों में कैंट थाना के सिपाहियों का कमरा बुक रहता है. होटलों के बाहर खड़े होकर सिपाही प्रेमी जोड़ों से वसूली भी करते हैं. उनके निशाने पर कालेज स्टूडेंट्स ज्यादा होते हैं. उधर राजघाट एरिया के रायगंज में भी पुलिस ने छापेमारी करके कुछ लोगों को हिरासत में लिया.

वर्जन

इस मामले में जांच पड़ताल जारी है. ऐसे कामों के लिए दुकान, मकान या किसी स्थान को रुपए लेकर उपलब्ध कराना और उसी कमाई से अपना जीवन निर्वहन करना कानूनन जुर्म है. यह प्रक्रिया अनैतिक देह व्यापार अधिनियम की श्रेणी में आती है. होटल में घंटे के हिसाब से रुपए लेकर प्रेमी जोड़ों को मौज-मस्ती के लिए कमरा उपलब्ध कराया जा रहा था. सेक्स रैकेट संचालित होने की संभावना में भी पड़ताल की जा रही है.

लोक शर्मा, एसपी क्राइम