-सिविल लाइन्स में स्थित है लॉज, फ्रैंडशिप डे की थीम पर हो रही थी पार्टी, नशे में धुत्त मिले लड़के लड़कियां झूमते मिले

kanpur@inext.co.in

KANPUR : सिविल लाइन्स के हेड क्वार्टर (एचक्यू) लॉज में रविवार को पार्टी के नाम पर नशाखोरी, अय्याशी और अश्लीलता कराए जाने का खुलासा हुआ. सिटी मजिस्ट्रेट ने फोर्स के साथ वहां पर छापा मारा तो वहां पर सौ से ज्यादा लड़के लड़कियां पार्टी के नाम पर नशाखोरी और अय्याशी कर रहे थे. पुलिस को देखते ही वहां अफरा तफरी मच गई. लॉज से भारी मात्रा में नशाखोरी का सामान बरामद हुआ है. जिसे जब्त कर पुलिस ने लड़के लड़कियों को हिरासत में ले लिया. जिसमें ज्यादातर नशे में धुत्त थे. पुलिस ने परिजनों को बुलाकर लड़के लड़कियों को उनके सुपुर्द कर दिया. अब पुलिस लॉज मालिक पर कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है.

बिना लाइसेंस पिला रहे थे शराब

गोविंदनगर निवासी सुमित चावला का वीआईपी रोड पेट्रोल पंप के सामने हेड क्वार्टर नाम से लॉज है. रविवार को लॉज में फ्रैंडशिप थीम पर पार्टी रखी गई थी. जिसमें करीब सौ से ज्यादा लड़के लड़कियां शामिल हुए था. लाइसेंस न होने के बाद भी यहां शराब पिलाई जा रही थी. शाम करीब छह बजे एडीएम सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट ने फोर्स के साथ छापा मारा तो अफरा तफरी मच गई.

वीआईपी रोड पर भागे

लड़के लड़कियां बचने के लिए वीआईपी रोड पर भागने लगे. पुलिस ने उनको दौड़ाकर हिरासत में ले लिया. पुलिस ने लॉज की तलाशी ली तो भारी मात्रा में बीयर और शराब की बोतल बरामद हुई. इसका पता चलते ही आबकारी टीम भी वहां पर जांच करने पहुंच गई.

हुक्के से सूखा नशा कराया जा रहा था

लॉज में शराब के साथ ही सूखे नशे का भी इंतजाम था. जिसे पीते ही इंसान मदहोश हो जाता है. यह सूखा नशा हुक्के में भरकर लड़के लड़कियों को पिलाया जा रहा था. लॉज में सबसे ज्यादा डिमांड सूखे नशे की ही थी. जब वहां छापा पड़ा तो डांस फ्लोर पर लड़के लड़कियां हुक्का लेकर गुड़गुड़ा रहे थे. पुलिस पूछताछ में लॉज कर्मचारियों ने बताया कि लड़कियां शराब के बजाय सूखा नशा पसंद करती है.

अधिकतर लड़के लड़कियां नाबालिग

लॉज से पकड़े गए लड़के लड़कियों में ज्यादातर नाबालिग थे और वे नशे में भी थे. इससे यह भी साफ हो गया कि लॉज में नाबालिग लड़के लड़कियों को भी नशाखोरी कराई जाती थी. कुछ लड़के-लड़कियां आपत्तिजनक हालत में भी मिले. कर्मचारियों ने पुलिस को बताया कि पार्टी के समय लॉज में अंधेरा होता है. जिसका फायदा उठाकर कुछ लोग अश्लीलता करने लगते है.

मीडिया कर्मियों से अभद्रता की

लॉज में प्रशासन के छापे का पता चलते ही मीडिया कर्मी भी कवरेज करने के लिए वहां पहुंच गए. मीडिया कर्मी लॉज के अंदर जाने लगे तो लॉज के कर्मचारियों ने उनको रोकने की नियत से अभद्रता कर दी. जिससे मामले ने तूल पकड़ लिया. इसका पता चलते ही अफसरों ने बीचबचाव कर मामले को शांत कराया.