अय्याश सिपाही की करतूत

-बर्रा के अय्याश सिपाही की करतूत, बीजेपी विधायक महेश त्रिवेदी का गनर है आरोपी

-थाने में सुनवाई न होने पर युवती एसएसपी के पास पहुंची, रिपोर्ट दर्ज कर किया सस्पेंड

kanpur@inext.co.in

KANPUR: बर्रा के एक अय्याश सिपाही ने खाकी वर्दी के 'नशे' अपनी मंगेतर का कई बार रेप किया और बाद में उसे छोड़कर दूसरी जगह शादी तय कर ली. 25 अप्रैल यानि बुधवार को शादी समारोह था. युवती को इसकी जानकारी हुई तो वह अपनी शिकायत लेकर बर्रा थाने पहुंची लेकिन मामला सत्ताधारी विधायक और 'साथी' का होने के कारण उसे टरका दिया गया. मजबूर होकर युवती एसएसपी के पास पहुंची और आरोपी सिपाही की करतूत बताई. एसएसपी ने उसकी आपबीती सुनने के बाद रिपोर्ट दर्ज कर जांच के आदेश दिए. देर शाम सिपाही को सस्पेंड भी कर ि1दया गया.

ले जाता था घुमाने

बर्रा निवासी एक प्राइवेट कर्मी की बेटी कंचन(काल्पनिक नाम) की 29 सितंबर 2016 को कांस्टेबल दीपक कुमार दीक्षित से शादी तय हुई थी. दीपक किदवई नगर से भाजपा विधायक महेश त्रिवेदी का गनर है. वह मूलरूप से झांसी के चिरगांव का रहने वाला है. कंचन का आरोप है कि दीपक शादी तय होने के बाद मोबाइल पर बात करने लगा. 2 दिसंबर 2016 को उनकी वरीक्षा भी हो गई. इसके बाद दीपक आए दिन कंचन से मिलने भी लगा. वह कंचन को अक्सर कॉलेज जाते वक्त घुमाने के बहाने ले जाता था.

मैं तुम्हारा होने वाला पति हूं..

5 नवंबर को कंचन के घरवाले वैष्णो देवी दर्शन करने गए थे. दीपक को इसका पता चला तो वह कंचन के घर आ गया. विरोध करने पर दीपक ने उसे यह कहकर शांत करा दिया कि वह उसका होने वाला पति है. कंचन का आरोप है कि इस दौरान दीपक ने उसके साथ कई बार शारीरिक संबंध बनाए. 29 सितंबर 2017 को उनका गोद भराई और तिलक का भी कार्यक्रम हो गया. इसके बाद दीपक और उसके परिजनों ने अतिरिक्त दहेज की मांग कर बात करना बंद कर दिया. इधर, अप्रैल के पहले सप्ताह युवती को पता चला कि दीपक 25 अप्रैल को किसी दूसरी युवती से शादी करने जा रहा है. उसने थाने में उसकी शिकायत की, लेकिन सुनवाई न होने पर वह बुधवार को एसएसपी के सामने पेश हो गई. एसएसपी ने आपबीती सुनकर रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दे दिया.