फ्लैग: पॉलीथिन की अवैध बिक्री पर रोक लगाने में नगर निगम नहीं ले रहा रूचि

- 15 अगस्त से प्लास्टिक प्रोडक्ट पर सेकंड स्टेप की बंदिशें होनी हैं लागू

- फ‌र्स्ट स्टेप में पॉलीथिन की बिक्री नहीं रोक सके अफसर

<फ्लैग: पॉलीथिन की अवैध बिक्री पर रोक लगाने में नगर निगम नहीं ले रहा रूचि

- क्भ् अगस्त से प्लास्टिक प्रोडक्ट पर सेकंड स्टेप की बंदिशें होनी हैं लागू

- फ‌र्स्ट स्टेप में पॉलीथिन की बिक्री नहीं रोक सके अफसर

BAREILLY:

BAREILLY:

पॉलीथिन और प्लास्टिक उत्पादों पर प्रतिबंध का दूसरा चरण क्भ् अगस्त से शुरू होने जा रहा है, लेकिन नगर निगम अपना पहला चरण ही पूरा नहीं कर पाया. पहले चरण में भ्0 माइक्रॉन से कम की पॉलीथिन बैन है, लेकिन नगर निगम ने पॉलीथिन बैन अभियान कुछ दिन ही चलाकर छोड़ दिया. हाल यह है कि शहर के थोक मार्केट में पॉलीथिन धड़ल्ले से बिक रही है. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने संडे को स्टिंग में पॉलीथिन के अवैध धंधे का सच कैमरे में कैद कर लिया. पढि़ए रिपोर्ट..

दुकान में नहीं गोदाम में रखते हैं पॉलीथिन

कुतुबखाना-चौपला रोड पर डाकघर के पास पॉलीथिन की थोक मार्केट है. जहां धड़ल्ले से पॉलीथिन का कारोबार किया जाता है. जब दैनिक जागरण आईनेक्स्ट की टीम ने एक दुकान पर जाकर पॉलीथिन मांगी तो रिपोर्टर और दुकानदार के बीच क्या बात हुई आइए बताते हैं..

रिपोर्टर - पॉलीथिन चाहिए

दुकानदार - कितनी चाहिए और कौन सी

रिपोर्टर - कैरी बैग चाहिए, जिसमें रखकर सब्जी और सामान ले जाते हैं.

दुकानदार - हां मिल तो जाएगी, लेकिन कम नहीं मिलेगी ज्यादा लेनी पड़ेगी

रिपोर्टर - कितनी ज्यादा

दुकानदार - कम से कम ख् से ढाई किलो ही एक बार में बेचते हैं.

रिपोर्टर -क्या रेट है

दुकानदार- ख्ब्0 रुपए किलो

रिपोर्टर - ठीक है, आधा किलो दे दो

दुकानदार - यहां तो रखते नहीं हैं, गोदाम से लानी पड़ेगी. यहां रखेंगे तो छापा मारने वाले एक बार में भ् हजार रुपए का जुर्माना लगाते हैं.

रिपोर्टर - गोदाम कहां है, ज्यादा दूर है.

दुकानदार - नहीं सामने ही गली में है, अभी लेकर आते हैं.

रिपोर्टर - ठीक है, जल्दी से लेकर आओ

दुकानदार - कोई बैग तो लाए नहीं हो कैसे ले जाओगे, छिपाकर ले जाना कोई देख न ले.

रिपोर्टर - हां ठीक है, छिपाकर ही ले जाएंगे

नगर आयुक्त बोले कहां बिक रही है पॉलीथिन

प्रतिबंध के बावजूद पॉलीथिन का कारोबार शहर में हो रहा है, लेकिन नगर निगम के अफसर इसे रोकना तो दूर यह मानने को ही तैयार नहीं हैं कि शहर में पॉलीथिन बिक रही है. इस बारे में नगर आयुक्त राजेश श्रीवास्तव का कहना है कि यदि शहर में कहीं पॉलीथिन बेची जा रही है तो उन्हें सूचना दी जाए, जिस पर वह टीम को भेजकर कार्रवाई कराएंगे.