जकार्ता (एपी)। इंडोनेशिया के सैन्य प्रमुख ने बुधवार को बताया कि बड़े पैमाने पर चल रहे खोज प्रयास के दौरान समुद्र में उस संभावित जगह का पता लगा लिया गया है, जहां लायन एयरलाइन्स का विमान दुर्घटनाग्रस्त होकर डूबा था। सशस्त्र बल के प्रमुख हादी तजाहांतो ने कहा, 'राष्ट्रीय खोज और बचाव एजेंसी को समुद्र में टूटे हुए विमान के कुछ बॉडी पार्ट्स मिले हैं। पार्ट्स की पुष्टि करने के लिए हम वहां एक टीम भेज रहे है।' बता दें कि इस भयानक हादसे ने इंडोनेशिया में तेजी से बढ़ते विमान उद्योग में सुरक्षा की चिंताओं को बढ़ा दिया है, लोग प्लेन में सफर करने से डर रहे हैं। कहा जा रहा है कि बोइंग कंपनी के कुछ विशेषज्ञ बुधवार को प्लेन में हुई तकनीकी खराबी का पता लगाने के लिए इंडोनेशिया पहुंचेंगे और लायन एयरलाइन्स ने बताया कि सुरक्षा नियामकों की जांच के अलावा इस हादसे को लेकर एक इंटरनल जांच भी चल रही है।

समुद्र में मिली 22 मीटर लंबी चीज

इसके अलावा, नौसेना के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि जहां लायन एयरलाइन्स का विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ, वहां पानी के नीचे इंडोनेशियाई खोज और बचाव कार्यकर्ताओं को एक 22 मीटर लंबी चीज मिली है। फिलहाल नेवी साइड-स्कैन सोनार के जरिये यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि वह बड़ा वस्तु लापता विमान का हिस्सा था या नहीं। सोमवार को, लायन एयरलाइन्स का विमान जकार्ता सोईकरणो हत्ता इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ान भरने के 13 मिनट बाद क्रैश हो गया था। लायन एयरलाइन्स की फ्लाइट जेटी 610 जकार्ता से पंगकलपिनांग जा रही थी, तभी यह हादसा हो गया। एयरलाइन्स के मुताबिक, इस फ्लाइट में एक भारतीय पायलट भावे सुनेजा समेत 189 लोग सवार थे। लायन एयर ग्रुप के चीफ एक्जीक्यूटिव एडवर्ड सिरैत ने मीडिया को बताया, 'हम इस हादसे को लेकर काफी उलझन में हैं क्योंकि यह एक नया विमान था।'

इंडोनेशिया में उड़ान भरने के तुरंत बाद क्रैश होकर समुद्र में डूबा यात्री विमान, 189 लोग थे सवार

इंडोनेशियाई विमान हादसे में नई दिल्ली के रहने वाले पायलट भावे सुनेजा की मौत

International News inextlive from World News Desk