- ट्रिपिंग में कमी लाना है प्रमुख उद्देश्य

- प्रमुख सचिव ऊर्जा ने मंडलायुक्तों को भेजा पत्र

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW लखनऊ, झांसी, अलीगढ़, मुरादाबाद, सहारनपुर, बरेली, इलाहाबाद तथा वाराणसी में बिजली आपूर्ति की गुणवत्ता और बेहतर करने एवं ट्रिपिंग में कमी के उद्देश्य से लगभग 400 करोड़ रुपये के स्काडा (सुपरवाइजरी कंट्रोल एंड डाटा, एक्यूजिशन) प्रणाली की स्थापना के लिए प्रमुख सचिव ऊर्जा एवं उप्र पॉवर कारपोरेशन अध्यक्ष आलोक कुमार ने कदम आगे बढ़ाए हैं. उन्होंने इस संबंध में उक्त शहरों के मंडलायुक्तों को पत्र लिख कहा है कि इन शहरों में स्मार्ट सिटी परियोजना का क्रियांवयन किया जा रहा है. किसी भी नगर को स्मार्ट सिटी के स्तर तक ले जाने के लिए गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति जरूरी है. ट्रिपिंग में कमी के के लिए स्काडा प्रणाली की स्थापना आवश्यक है.

यह है स्काडा प्रणाली

स्काडा में कंट्रोल रूम के माध्यम से विद्युत प्रणाली को नियंत्रित किया जाता है. किसी भी क्षेत्र में विद्युत व्यवधान होने पर प्रणाली में उपलब्ध आकड़ों एवं स्रोतों के आधार पर अतिशीघ्र किसी अन्य स्रोत से बाधित क्षेत्र को विद्युत आपूर्ति उपलब्ध कराई जा सकती है. इस प्रणाली में उपकेंद्र पूर्ण रूप से आटोमेटेड होते हैं, जिसका परिचालन रिमोट द्वारा कंट्रोल रूम से किया जाता है. विदेशों में यह तकनीक यूज की जाती है. स्काडा प्रणाली के अंतर्गत उपकेंद्र पर आरटीयू, एफआरटीयू उपकरणों की स्थापना, कंट्रोल रूम एवं उपकेंद्रों के मध्य संचार प्रणाली की स्थापना तथा आधुनिक कंट्रोल रूम बनाया जाएगा.