-ठग ने मेरिट में नाम शामिल कराने के नाम पर अभ्यर्थी से मांगे 50 हजार

-

BAREILLY:

ग्रामीण डाक सेवक के रिजल्ट का इंतजार कर रहे कैंडिडेट्स के पास घूस के फोन कॉल्स आने शुरू हो गए हैं. उन्हें बताया जा रहा है कि यदि आप घूस की रकम देते हैं, तो मेरिट लिस्ट में आपका नाम आ जाएगा. ऐसा न करने पर उन्हें नौकरी से हाथ धोने का डर भी दिखा रहे हैं. लिहाजा, कॉम्पिटीशन में भाग लेने वाले कैंडिडेट्स पसोपेश में पड़ गए हैं.

50 हजार रुपए डिमांड

कटरा चांद खां निवासी राकेश कुमार ने ग्रामीण डाक सेवक के लिए आवेदन किया है. फ्राइडे सुबह उनके पास एक फोन आया. फोन करने वाले ने खुद को डाककर्मी बताया. उसका कहना था कि यदि मेरिट लिस्ट में अपना नाम शामिल कराना चाहते हो तो 50 हजार रुपए देने होंगे. 25 हजार रुपए मेरिट लिस्ट जारी होने से पहले और बाकी रुपए चयन होने के बाद एसबीआई के अकाउंट में जमा करने होंगे.

एक नंबर से बताया पीछे

राकेश को फोन करने वाले युवक ने बताया कि उसका नाम मेरिट लिस्ट से महज एक नंबर दूर है. यदि वह रुपए अकाउंट में डाल देता है, तो उसका सेलेक्शन हो जाएगा. ज्यादा पूछताछ करने पर उसने नौकरी से हाथ धोने की धमकी तक दे डाली. सनद रहे कि ग्रामीण डाक सेवक के लिए हाईस्कूल उत्तीर्ण कैंडिडेट्स को अप्लाई किए हैं. इनका सेलेक्शन हाईस्कूल में प्राप्त अंक के आधार पर मेरिट बेस पर होना है.

किसी भी प्रकार का फोन आ रहा है तो वह फर्जी है. स्टूडेंटस इस बात की शिकायत पीएमजी ऑफिस लखनऊ कर सकते है. जिन स्टूडेंट का सेलेक्शन होगा उनके मोबाइल नंबर पर मैसेज आएगा. रिजल्ट ऑनलाइन भी देख सकते है. -

रामेश्वर दयाल, एसएसपी मुख्य पोस्ट ऑफिस