बरसात के साथ उभरी आवास विकास की सड़कों की क्वालिटी

पुल से लेकर कॉलोनियों की सड़कों में हो रहे गड्ढे

Meerut. इस साल हुई तेज बारिश ने कई सरकारी विभागों के काम पर प्रश्न खड़ा दिया. बरसात के कारण नगर निगम, आवास विकास, एमडीए आदि विभागों के निर्माण का सच जनता के सामने आ गया. अभी नगर निगम की सड़कों के गड्ढे भरने शुरु नही हुए कि आवास विकास के दायरे में बने पुल व सड़कों में जगह-जगह गड्ढे होने शुरु हो गए हैं. हालांकि, इनको छुपाने के लिए आवास-विकास और निगम ने जगह-जगह पैचवर्क शुरु कर दिया है, लेकिन सालभर पहले बनी सड़कों पर हुए गड्ढे विभागों की कार्यप्रणाली पर सवाल खडे़ कर रहे हैं.

डी ब्लॉक पुल में दूसरा गड्ढा

अभी पिछले माह ही शास्त्रीनगर स्थित डी ब्लॉक पुल के एक हिस्से के नीचे सीवर लाइन धंसने से गहरा गड्ढा हो गया था. उस गड्ढे के कारण कई दिनों तक यातायात बाधित रहा. अभी गड्ढा पूरी तरह सही भी नही हुआ कि पुल के दूसरी साइड के बीच पुल में गड्ढा बन गया. हादसों को देखते हुए ट्रैफिक पुलिस ने बेरीकेडिंग तक लगा दिया है.

शास्त्रीनगर में बुरा हाल

वहीं, आवास विकास की सबसे अधिक हिट योजना शास्त्रीनगर और जागृति विहार में बरसात के कारण जगह जगह सीवर लाइन के ऊपर सड़क टूटने लगी है. सीवर लाइन व अंडर ग्राउंड नालियों में पानी का दबाव से सड़क कमजोर होकर टूटती जा रही है, लेकिन आवास विकास का इस ओर अभी तक ध्यान नही है.

आवास विकास की कालोनियों में पैचवर्क का काम कराया जा रहा है. बाकि जो मुख्यमार्ग हैं वो निगम की सीवर लाइन के कारण क्षतिग्रस्त हो रहे हैं उनको भी सही कराया जा रहा है.

- प्रमोद सिंह, ईएक्सईएन