क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ: दिवाली में राजधानी के लोगों को 24 घंटे बिजली मिली. लेकिन शुक्रवार के बाद फि र से बिजली की कटौती शुरू होने वाली है. शनिवार से एपीडीआरईपी योजना का काम पूरे शहर में शुरू होगा. मेंटेनेंस का काम और एपीडीआरईपी का काम शुरू होने के कारण कई इलाकों में बिजली का शटडाउन शुरू हो जाएगा. बिजली विभाग के अधीक्षण अभियंता अजीत कुमार ने बताया कि एपीडीआरईपी का काम होना जरूरी है. छठ जैसे त्यौहार में काम बंद रहेगा और लोगों को 24 घंटे तक बिजली मिलती रहेगी.

दिसंबर तक बिजली कटौती

शहर के लोगों को तत्काल बिजली कटौती से राहत मिलने वाली नहीं है. एपीडीआरईपी का काम दिसंबर महीने तक चलेगा. पूरे तीन महीने तक शहर के अलग-अलग इलाकों में बिजली की लोडशेडिंग चलती रहेगी. विभाग के इंजीनियरों का कहना है कि एपीडीआरईपी के तहत काम करना जरूरी है, इसलिए बिना शटडाउन दिए काम नहीं किया जा सकता है. मजबूरी में लाइन काटनी पड़ती है. दिसंबर महीने तक जब तक इस योजना का काम पूरी तरह से खत्म नहीं होता तब तक बिजली की थोड़ी किल्लत लोगों को झेलनी पड़ेगी.

आज इन इलाकों में पावरकट

-33ए 11 सेवा सदन फीडर से आरएपीडीआरईपी का काम होगा, इसको लेकर इस फीडर से बिजली सप्लाई बंद रहेगी. इस फीडर से 12 से 3 बजे तक बिजली बंद रहेगी. इससे किशोरगंज, भुईयां टोली, शहीद चौक, सोनार गली, रांची एक्सप्रेस इलाके में बिजली कटी रहेगी.

वर्जन

दिवाली में 24 घंटे तक बिजली दी गई. आज से फि र एपीडीआरईपी का काम शुरू होगा, इसलिए जिस इलाके में काम होगा वहां बिजली का शटडाउन किया जाएगा. हालांकि छठ पूजा जैसे त्यौहार में लाइट नहीं कटेगी. 24 घंटे बिजली मिलती रहेगी.

-अजीत कुमार, अधीक्षण अभियंता, बिजली विभाग रांची