अधिकारियों की अनदेखी से अनिश्चित कालीन हुई हड़ताल

फॉल्ट रिपेयरिंग के लिए करना पड़ रहा घंटों तक इंतजार

Meerut गृह तहसील से अन्य तहसीलों में तबादले के आदेश के विरोध में हड़ताल पर बैठे बिजली विभाग के आउटसोर्सिग लाइनमैन और कर्मचारियों की हड़ताल से शहर की बिजली व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई. शहर के दर्जनों फीडरों से जुडे क्षेत्रों में फाल्ट होने पर सुधार के लिए लोग परेशान रहे लेकिन हड़ताल के चलते कई कई घंटों तक फाल्ट सही नहीं हो सका. वहीं अधिकारियों की अनदेखी के चलते संविदा कर्मचारियों ने अपनी तीन दिवसीय हड़ताल को अनिश्चितकालीन घोषित कर बिजली विभाग की परेशानी को बढ़ा दिया है.

हड़ताल पर लाइनमैन

निविदा संविदा कर्मचारी सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित प्रदेश व्यापी इस हड़ताल में मेरठ जनपद के करीब 1238 संविदा लाइनमैन शामिल हैं. इतनी भारी संख्या में लाइनमैन के हड़ताल पर चले जाने के कारण शहर की बिजली व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हो गई है. अब यदि शहर में कहीं छोटा या बड़ा फाल्ट होता है तो कई कई घंटों तक फॉल्ट रिपेयर नही होगा.

नाम मात्र के स्थाई कर्मचारी

बिजली विभाग के पास स्थाई लाइनमैन के नाम पर मात्र 30 से 40 लाइनमैन हैं. लेकिन शहर में 90 से अधिक सब स्टेशनों के अनुपात में यह संख्या काफी कम है. ऐसे में शहर मे रोजाना होने वाले सैकड़ो छोटे बडे फाल्ट के लिए बिजली विभाग पूरी तरह से संविदा लाइनमैन पर निर्भर है. लेकिन हड़ताल के चलते अब फॉल्ट को समय से सही करना विद्युत विभाग के लिए चुनौती बन चुका है. अब विभाग नाममात्र के स्थाई लाइनमैन के भरोसे ही शहर की बिजली व्यवस्था सुधारने के प्रयास में लगा हुआ है.

हंगामा के बीच गुजरे दो दिन

लाइनमैन की हड़ताल के चलते लगातार शहर की बिजली आपूर्ति प्रभावित होती जा रही है. गुरुवार रात नौचंदी फीडर में फाल्ट आने के कारण क्षेत्र के लोगों ने बिजलीघर पर हंगामा कर दिया, लेकिन देर रात तक फॅाल्ट सही नही हो सका. हंगामे के कारण पुलिस तक बुलानी पड़ी. वहीं शुक्रवार को लाइनमैन की हड़ताल के कारण बिजलीबंबा, गंगानगर फ‌र्स्ट, विकासपुरी, हापुड़ रोड, लिसाड़ी गेट, लिसाड़ी रोड आदि फीडरों में फाल्ट आने के कारण बिजली व्यवस्था पूरी तरह बाधित हो गई. लोग बिजलीघरों में फोन करते रहे लेकिन जवाब नहीं मिला. कई जगह लोगों ने बिजलीघरों में जाकर हंगामा कर दिया. लेकिन देर रात तक फॉल्ट सही नही हो सके.

अनिश्चितकालीन हुई हड़ताल

शुक्रवार को ऊर्जा भवन में आयोजित धरने में संविदा कर्मियों ने अपनी हड़ताल को अनिश्चित कालीन घोषित करते हुए जमकर नारेबाजी और विरोध प्रर्दशन किया. लाइनमैन के पक्ष में उप पावर कंट्रेक्टर्स एसोसिएशन ने भी अपना समर्थन देते हुए हड़ताल में शामिल होने का आश्वासन दिया है.

वर्जन-

संविदा लाइन मेन से बात कर हड़ताल के खत्म कराने का प्रयास किया जा रहा है. तब तक स्थाई लाइन मेन व अन्य कर्मचारियों की मदद से सप्लाई सुचारु बनाने का प्रयास किया जा रहा है.

- बीएस यादव, चीफ इंजीनियर

यदि संविदा लाइनमैन की मांगें पूरी न की गई तो यह आंदोलन हड़ताल तक सीमित नही रहेगा. बल्कि इसका जवाब हजारों की संख्या में लाइनमैन अपने परिवार समेत सरकार को वोट न देकर जवाब देंगे.

- भूपिंदर सिंह

अध्यक्ष, निविदा संविदा कर्मचारी सेवा समिति

-----

नौचंदी बिजलीघर पर लगातार कट लगने की समस्या गुरुवार देर रात से चालू है. बार-बार शिकायत के बाद भी बिजली आपूर्ति सुचारु नही हो रही है.

- गुलफाम

लाइन मे फाल्ट को सही कराने के लिए बिजलीघर में कई बार बात करने के बाद भी फॅाल्ट नही सही किया गया. बता रहे हैं हड़ताल है.

- अहसान

सिद्धार्थनगर में सुबह 12 बजे से लाइट नही है लाइन में फाल्ट है लेकिन कोई लाइनमैन सही करने नही आया है.

- श्री कांत

ये है स्थिति

1238 संविदा लाइनमैन

750 संविदा लाइनमैन शहर में

488 संविदा लाइनमैन देहात क्षेत्र में

35 स्थाई लाइनमैन शहर में

60 से अधिक सब स्टेशन

5 बिजलीघरों पर सिर्फ 1 स्थाई लाइनमैन