-प्राथमिक विद्यालय रसूलाबाद में प्रिंसिपल ने बहाई बदलाव की बयार

-स्कूल में बच्चों की सुविधाओं के लिए पहल संस्था ने की पहल

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: प्राथमिक विद्यालय रसूलाबाद में रोज के मुकाबले गुरुवार को बच्चों की खुशी कई गुना बढ़ी हुई थी. आखिर होता भी क्यों नहीं. स्कूल में बच्चों को अब जमीन पर नहीं बैठना पड़ेगा. बैठने के लिए स्कूल में फर्नीचर उपलब्ध हो रहा है. इतना ही नहीं स्कूल के सभी बच्चों के लिए वाटर बॉटल आदि की व्यवस्था भी हो गई थी. स्कूल में इस बदलाव के पीछे स्कूल इंचार्ज प्रधानाध्यापिका रुबी ओझा की एक सोच थी. स्कूल को व्यवस्थित करने और बच्चों के लिए स्कूल में सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए स्कूल की प्रधानाध्यापिका की प्रयास पर पहल संस्था ने स्कूल को गोद ले लिया. उसके बाद स्कूल की कायाकल्प की शुरुआत हुई.

हुई तारीफ

नगर क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय रसूलाबाद में पहल जनकल्याण समिति की अध्यक्ष डॉ. वंदना सिंह द्वारा गोद लिए जाने के बाद कई चीजों की शुरुआत हुई. इस मौके पर कार्यक्रम आयोजित हुआ. मुख्य अतिथि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संजय कुमार कुशवाहा ने स्कूल की प्रिंसिपल के प्रयास और पहल संस्था की ओर से दिए गए योगदान की जमकर तारीफ की. इस मौके पर पतंजलि ग्रुप ऑफ स्कूल के डायरेक्टर मधुकर गुणे, पहल संस्था की अध्यक्ष डॉ वन्दना सिंह, क्षेत्रीय पार्षद मुकुन्द तिवारी, डॉ गार्गी श्रीवास्तव एवं भारतेन्द्र त्रिपाठी समेत स्कूल प्रबंध समिति के अध्यक्ष फूलचंद्र, शिक्षा मित्र मीना तिवारी, रामलली यादव,पुष्पा देवी, डॉ. शैलेश पाण्डेय आदि मौजूद रहे.

यह दिया गया

बच्चों के लिए पहल संस्था की ओर से कॉपी, कलम, पेंसिल,पेंसिल बॉक्स, पानी की बोतल, बच्चों के बैठने के लिए फर्नीचर, डेस्क, विद्यालय में टाइल्स,शुद्ध पेयजल व्यवस्था, वॉल पेंटिंग की व्यवस्था की गई है.

प्राथमिक स्कूलों के टीचर्स के प्रयास के जरिए स्कूलों में सुविधाओं को बढ़ाया जा सकता है. इससे अन्य स्कूलों के टीचर्स को भी प्रेरणा लेनी चाहिए.

-संजय कुमार कुशवाहा,

बीएसए