10 जून तक हो सकती है मानसून एक्सप्रेस की इंट्री

गड़बड़ाई पारे की चाल, अप एंड डाऊन हो रहा पारा

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: केरल में मानसून ने अपने सुनिश्चित समय से पहले ही दस्तक दे दी है. ऐसे में अब लोगों को मानसून के यूपी में इंट्री का इंतजार है. इससे पहले सूबे में प्री मानसून इफेक्ट की शुरूआत हो चुकी है. इससे पारे की चाल कभी ऊपर तो कभी नीचे हो रही है. फिलहाल तो खुशखबरी की बात यह है कि केरल में मानसून की दस्तक से बहुत जल्द लोकल लेवल पर भी लोगों को झमाझम बारिश देखने को मिलेगी. इससे पहले अगले एक दो दिनो में बंगाल की खाड़ी से उठे शक्तिशाली चक्रवात का भी असर दिखाई पड़ सकता है.

भीषण गर्मी व उमस से मिलेगी राहत

गौरतलब है कि 15 मई के आसपास भारत मौसम विज्ञान विभाग ने भविष्यवाणी की थी कि केरल में मानसून 01 जून तक दस्तक दे सकता है. लेकिन यह केवल एक पूर्वानुमान ही था. वहीं वक्त गुजरने के साथ वहां मानसून ने समय से पहले ही जोरदार इंट्री मार दी. अंडमान निकोबार, मेघालय और केरल जैसी जगहों पर समय पर मानसून की दस्तक से अब यूपी के लोगों में भी उत्साह देखा जा रहा है. भीषण गर्मी से झुलस रहे यूपी के लोगों को आस है कि मानसून यहां भी जल्द पहुंचेगा.

अनुकूल हैं मौसमी दशायें

मौसम विज्ञानियों की माने तो उनका यह अनुमान गलत भी नहीं है. केरल में मानसून की दस्तक के बाद अगले 15 दिनो में यूपी में इसकी इंट्री मानी जाती है. लेकिन जानकारों का कहना है कि अबकी ताकतवर नजर आ रहा मानसून 10 जून से पहले ही दस्तक दे सकता है. मौसम विज्ञानियों का कहना है कि मौसमी दशायें जब अनुकूल होती हैं तो वह मानसून को तेजी से आगे बढ़ाने में सहायक होती हैं. ऐसे में साउथ वेस्ट मानसून अपनी पूरी रफ्तार में है.

चक्रवात से आंधी बारिश के आसार

उधर, पूरे वेदर कंडीशन पर प्री मानसून इफेक्ट भी दिखना शुरू हो गया है. इससे अलग अलग जिलों में हल्की फुल्की बरसात के अलावा बीच बीच में आसमान पर बादल भी नजर आ रहे हैं. इससे अभी तक लगातार 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर चल रहा पारा भी गड़बड़ा गया है. मैक्सिमम और मिनिमम टेम्परेचर कभी ऊपर तो कभी नीचे की ओर जा रहा है. यह भी माना जा रहा है कि बंगाल की खाड़ी से उठे ताकतवर चक्रवात मोरा का आंशिक असर भी एक दो दिन में यूपी में दिखाई दे सकता है.

दस दिनो में पारे की चाल

----------------

31 मई-

30 मई- 40.8, 27.9

29 मई- 37.0, 23.7

28 मई- 39.9, 28.2

27 मई- 38.4, 32.7

26 मई- 44.2, 31.7

25 मई- 46.1, 30.4

24 मई- 43.9, 29.3

23 मई- 42.6, 30.3

22 मई- 43.7, 29.0

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवात काफी शक्तिशाली है. लेकिन इसका हल्का असर ही देखने को मिल सकता है. क्योंकि जैसे जैसे चक्रवात आगे बढ़ता है, उसका वेग कम होता जाता है. मानसून की रफ्तार ऐसी है. जिससे इसकी इंट्री और पहले हो सकती है. फिलहाल तो प्री मानसून का इफेक्ट मौसम को बीच बीच में कूल करेगा.

-प्रो. बीएन मिश्रा,

एक्स. एचओडी ज्योग्राफी डिपार्टमेंट इलाहाबाद यूनिवर्सिटी