459 महिला कैंडिडेट्स को बुलाया गया था शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए

323 कैंडिडेट्स ही पहुंचीं इस परीक्षा में शामिल होने।

157 महिला कैंडिडेट्स ही 1000 मीटर की दौड़ क्वालीफाई कर पाई।

-आरआरबी ग्रुप डी की महिला शारीरिक शिक्षा परीक्षा के दौरान डीएसए ग्राउंड में दिखी अव्यवस्था

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: चैत्र नवरात्र के दूसरे दिन एक तरफ जहां घर-घर में मां दुर्गा के द्वितीय स्वरूप ब्रह्माचारिणी की पूजा हो रही थी, वहीं दूसरी तरफ डीएसए ग्राउंड में नारी शक्ति की परीक्षा हो रही थी। परीक्षा ज्ञान की नहीं, बल्कि आरआरबी-ग्रुप डी में भर्ती के लिए शारीरिक क्षमता की परीक्षा थी। लेकिन परीक्षा के दौरान अव्यवस्थाएं ही दिखाई दीं।

323 में 157 ही पूरी कर सकीं दौड़

आरआरबी ग्रुप डी में भर्ती के लिए अभी तक पुरुष अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता परीक्षा चल रही थी। रविवार को महिला अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता परीक्षा हुई। इसके लिए 459 महिला कैंडिडेट्स को बुलाया गया था, लेकिन 323 महिला कैंडिडेट्स ही शारीरिक दक्षता परीक्षा देने पहुंची। 323 महिला कैंडिडेट्स ने 20 किलो की बोरी उठाकर 100 मीटर दूरी तय की। उसके बाद 1000 मीटर की दौड़ शुरू हुई, इसे 5.40 मिनट में पूरा करना था। दौड़ में सभी 323 कैंडिडेट्स शामिल हुई। लेकिन आधी से अधिक महिला कैंडिडेट्स 1000 मीटर की दौड़ पूरी नहीं कर पाई। कई महिलाओं की सांस फूलने लगीं, कई महिलाएं लड़खड़ा कर मैदान पर ही गिर गई। वहीं कुछ महिलाएं पेट पकड़ कर बैठ गई। 323 में 157 महिला कैंडिडेट्स ही 1000 मीटर की दौड़ क्वालीफाई कर पाई। वहीं 166 महिला कैंडिडेट्स दौड़ में पीछे रह गई।

फैला था कचरा

मैदान पर जब महिलाओं की दौड़ चल रही थी, वहीं मैदान के आस-पास काफी अव्यवस्था भी दिखी। डीएसए ग्राउंड कैंपस में जहां पर कैंडिडेट्स के साथ आए लोगों के रुकने का इंतजाम था, वहां पर चारों तरफ काफी दु‌र्व्यवस्था नजर आई। जगह-जगह कचरे का ढेर पड़ा था। वहीं फलों का छिलका फेंका हुआ था। महिला कैंडिडेट्स की दौड़ देखने के लिए पानी टंकी पुल पर लोगों की काफी भीड़ लगी हुई थी।

मैदान में दौड़ने लगा कुत्ता

महिला कैंडिडेट्स की दौड़ के लिए मैदान के आस-पास सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे, आरपीएफ के जवान मैदान के आस पास लगाए गए थे। लेकिन महिला कैंडिडेट्स जब मैदान में दौड़ लगा रही थीं, तभी एक कुत्ता भी मैदान में पहुंच गया, जो महिला कैंडिडेट्स के आगे दौड़ लगाने लगा।