सुबह से बना रहा कौतुहल
यूनिवर्सिटीज से लेकर कॉलेजेज तक में बस यात्रा को लेकर सुबह से ही कौतुहल का माहौल रहा। हालांकि एक दिन पहले छुट्टी होने के कारण बहुत सारे स्टूडेंट्स को ये माजरा समझ में नहीं आ रहा था जबकि अधिकतर स्टूडेंट्स को इस यात्रा का पहले से पता था। वो जानते थे कि इलेक्शन कमीशन की ओर से निकाली गई यह बस यात्रा उनके कैंपस में आने वाली है।
 
ब्रैड एंबेस्डर का रहा क्रेज  
यूनिवर्सिटीज से लेकर कैंपस तक में बस यात्रा पहुंची लेकिन स्टूडेंट्स में यात्रा को लेकर उतना क्रेज नहीं दिखा जितना सोचा गया था। जबकि यात्रा में शामिल फेमस सिंगर व इलेक्शन कमीशन की ब्रैड एंबेस्डर मालिनी अवस्थी की एक झलक पाने की ललक यूथ में ज्यादा दिखी। खासकर गल्र्स में मालिनी का क्रेज कुछ अधिक ही दिखा। लगभग सभी जगह मालिनी अवस्थी के नाम पर ही भीड़ जुटी। वो सिर्फ अग्रसेन पीजी कॉलेज, सुधाकर महिला पीजी कॉलेज और बीएचयू ही पहुंच पायीं। बाकी जगहों पर जाने से पहले ही वो लखनऊ वापस लौट गयीं। इससे यूथ में मायूसी छा गयी।

ऐसे किया aware
अधिक से अधिक यूथ को वोटर बनाने और उन्हें इलेक्शन से जोडऩे के लिए कैंपस कैंपस केवल बस यात्रा ही नहीं घूम रही है। बल्कि इसके लिए एनएसएस के तत्वावधान में नुक्कड़ नाटक, भाषण, गीत, स्लोगन, पोस्टर व कैंडल मार्च का भी आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत सबसे पहले अग्रसेन पीजी कॉलेज पहुंची यात्रा के दौरान ब्रैड एंबेस्डर ने स्टूडेंट्स को संबोधित किया तो सुधाकर महिला पीजी कॉलेज में जागो रे देश के मतदाता गीत का गायन किया। इसके बाद संस्कृत यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट्स ने संस्कृत भाषण, संस्कृत गीत व भाषण दिया। यहां के बाद काशी विद्यापीठ में पहुंची यात्रा के दौरान स्टूडेंट्स ने जहां नुक्कड़ नाटक, नारा, कविता व गीत पेश किया तो बीएचयू से कैंडल मार्च निकाला गया।
तैयारी का जिम्मा NSS को
कैंपस में पढऩे वालों को वोटर बनाने और उन्हें इलेक्शन से जोडऩे की जिम्मेदारी अकेले चुनाव आयोग ही नहीं उठा रहा है। बल्कि इसमें एनएसएस को भी जोड़ा गया है। ताकि कैंपस में पूरी तैयारी को अंजाम दिया जा सके। यही नहीं सीधे पार्टिसिपेसन के लिए बाकायदा स्टेट लेवल पर कॉम्पटीशन का भी आयोजन किया जा रहा है। इसमें स्टूडेंट्स ही पार्टिसिपेट कर सकेंगे। 22, 23 व 24 को आयोजित विभिन्न कॉम्पटीशंस के विनर्स को राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी के दिन गवर्नर पुरस्कृत करेंगे।

यहां यहां गयी बस यात्रा

-अग्रसेन पीजी कॉलेज, परमानंदपुर, सुबह आठ बजे।
-उदय प्रताप कॉलेज, दस बजे।
-सुधाकर महिला पीजी कॉलेज, 11.30 बजे।
-संपूर्णानंद संस्कृत यूनिविर्सिटी, एक बजे।
-आजाद पार्क, 1.45 बजे
-महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ, 2.30 बजे
-शहीद उद्यान, 3.25 बजे
-डीएलडब्ल्यू चौराहा, 4.10 बजे
-बीएचयू गेट, 5 बजे

ताकि जुड़ें यूथ

वोटर लिस्ट में यूथ की संख्या तो बढ़ गयी है लेकिन वे इलेक्शन होने पर बूथ पर कम संख्या में पहुंच रहे हैं। इससे डिपार्टमेंट चिंतित है। लाख प्रयास के बाद भी यूथ का परसेंटेज नहीं बढ़ रहा है। वोट देने वालों की संख्या जस का तस है। इसको देखते हुए इलेक्शन कमीशन ने नया फंडा अपनाया है। यूथ को उन्हीं की स्टाइल में अवेयर करने का प्लैन तैयार किया है। इसके तहत सोशल नेटवर्किंग साइट्स को हथियार बनाया गया है। ताकि इसके थ्रू अधिक से अधिक यूथ वोटर बन सके और उन्हें इलेक्शन से जोड़ा जाएगा।