प्रॉपर्टी के दामों में इजाफा
दरअसल, उत्तर कोरिया से सटा चीन बॉर्डर का इलाका व्यापार के लिए बहुत मशहूर है और उसी इलाके से चीन और उत्तर कोरिया का व्यापार होता है। उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंधों के चलते इस इलाके में मौजूद चाइनीज कारखानों में काम करने वाले सैकड़ों उत्तर कोरियाई मजदूरों को अपना काम छोड़ना पड़ा था, लेकिन अब हालात एक फिर सुधर गए हैं। कुछ लोगों का कहना है कि उन इलाकों में मौजूद प्रॉपर्टीज के दामों में और इजाफा होगा।

हर दिन क्षमता से अधिक प्रॉपर्टी का रजिस्ट्रेशन
26 अप्रैल को इंटर-कोरियाई शिखर सम्मेलन से एक दिन पहले डांडोंग(चीन बॉर्डर का इलाका) संपत्ति रजिस्ट्रेशन कार्यालय ने अपने दरवाजे पर एक नोटिस पोस्ट किया और लिखा कि 'हाल के दिनों में संपत्ति लेनदेन और रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आवेदनों की संख्या हमारी प्रतिदिन दैनिक क्षमता 260 से अधिक हो गई है।

अपार्टमेंट खरीदने के इरादे से करते हैं फोन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जब से उत्तर कोरियाई नेता किम ने अपनी पहली विदेश यात्रा में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात कि है, तब से चीन बॉर्डर के इलाकों में प्रोपर्टीज खरीदने वाले ग्राहकों की संख्या में इजाफा हुआ है। डांडोंग में एजिया रियल एस्टेट कंपनी के सीईओ ली Xinyu ने एएफपी को बताया कि पिछले दो हफ्तों में वहां की संपत्तियों के बारे में ग्राहक फोन कर खूब पूछताछ कर रहे हैं, इन दिनों उन इलाकों में प्रॉपर्टी खरीदने वाले लोगों की संख्या बढ़ गई है।" उन्होंने कहा कि "अब मुझे एक दिनभर में 20 कॉल आते हैं और उसमें लगभग 10 ऐसे लोग होते हैं, जो उस इलाके में एक अपार्टमेंट खरीदने की इच्छा जाहिर करते हैं।"

International News inextlive from World News Desk